उत्तरप्रदेश के अछनेरा के गांव अरदाया के पीसीएस अधिकारी भूपेंद्र सिंह ने महज एक रुपए में शादी के लिए हामी भरी है। इनका तय किया रिश्ता सोशल मीडिया पर काफी वायरल भी हो रहा है। भूपेंद्र के परिजन ने अछनेरा के ही गांव कचोरा की मेधावी युवती पूजा से सिर्फ एक रुपए में शादी करने का फैसला किया है। यह रुपए भी उन्होंने लड़की वालों के काफी आग्रह के बाद शगुन के तौर पर लिया है। बतादें कि भूपेंद्र और पूजा मतदान वाले दिन फेरे लेने वाले हैं।

अरदाया के रहने वाले भूपेंद्र सिंह काे वर्ष 2020 में पीसीएस में चयन हुआ। वर्तमान में वह हिमाचल प्रदेश में उनका प्रशिक्षण चल रहा है। वह प्रशिक्षु क्षेत्रीय वन अधिकारी हैं। फरवरी 2022 में प्रशिक्षण पूरा होने के बाद उन्हें तैनाती मिलेगी। उनकी जाॅब लगने के बाद से ही घर पर शादी के लिए रिश्ते आने शुरू हो गए थे। उनके पिता सेवानिवृत्त शिक्षक एवं मां गृहिणी हैं। भूपेंद्र ने बताया कि वह और उनके माता.पिता दहेज के खिलाफ हैं। वह और स्वजन बिना दहेज की शादी करके समाज में एक संदेश देना चाहते थे। जिससे कि गरीब व सामान्य परिवार भी अपनी बेटियों को अच्छी शिक्षा देने में रुपये खर्च करें, न कि बेटियों के होने पर उनके दहेज जुटाने की चिंता में लग जाएं।

वहीं, पूजा ने बारहवीं में अपने स्कूल में पहला नंबर हासिल किया था। उन्होंने आगरा कालेज से केमिस्ट्री में प्रथम श्रेणी में एमएससी किया है। लड़की के परिजन ऐसा दामाद और परिवार पाकर खुश हैं। पूजा के भाई दीपक सिंह चौधरी ने कहा कि इससे समाज में अच्छे पदों पर नौकरी करने वाले युवकों के लिए संदेश जाएगा। वह भी बिना दहेज शादी के लिए प्रेरित होंगे।

सोशल मीडिया पर खूब लाइक किया जा रहा पोस्ट

लोगों की एक छोटी सी जाॅब क्या लग जाती है, लोगों के मुंह बंद नहीं होते हैं। किसी को 20 लाख तो किसी को 30 लाख रुपए दहेज में चाहिए। भले ही लड़की उनसे अधिक काबिल ही क्यों न हो। सबसे बड़ी विडम्बना तो इस बात की है लोग दहेज से लोगों की प्रतिष्ठा नापने लगे है। जहां तुम्हे ऐसे लोगों की अवहेलना करनी चाहिए वहां तुम इसे प्रतिष्ठा बना के बैठे हो। अपनी बहन-बेटियों को उच्च शिक्षित करो। जिससे कि वह अपना भविष्य खुद बना सकें।