देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 74वीं पुण्यतिथि पर पूरा देश उन्हें नमन कर रहा है. 30 जनवरी 1948 में महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राजधानी में राजघाट पर जाकर राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि दी.

आज राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर पूरा देश उन्हें नमन कर रहा है. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज राजधानी में राजघाट पर जाकर राष्ट्रपिता को श्रद्धांजलि दी. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी ने राजघाट पर 11 बजे बापू की समाधि पर माल्यार्पण किया. साथ ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी राजघाट पर महात्मा गांधी को फूल चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित की. इसके अलाव तमिलनाडु के राज्यपाल और मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने भी उन्हें नमन किया है.

 

इधर, अहमदाहबाद पहुंचे गृह मंत्री अमित शाह ने भी महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि दी. यहां उन्होंने लोगों के खादी खरीदने की अपील की. उन्होंने कहा- दुर्भाग्य की बात है कि बापू के फोटो को तो श्रद्धांजलि दी गई लेकिन लोग खादी को भूल गए ,स्वदेशी को भूल गए. उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने देश के प्रधानमंत्री बनने के बाद बापू के सभी सिद्धांतों को पुनर्जीवित किया.

 

शाह ने कहा कि खादी का इस्तेमाल ना सिर्फ गरीब की रोजगारी का साधन है बल्कि देश की आजादी की एक सोच है. उन्होंने कहा कि खादी का विचार आज भी उतना ही लागू होता है जितना देश की आजादी के वक्त होता था. शाह ने कहा स्वदेशी के विचार को आगे बढ़ाने का काम गुजरात की मिट्टी से ही देश की प्रधानमंत्री बने नरेंद्र मोदी ने किया और स्वभाषा को सम्मान देने का काम भी किया. विश्व का कोई भी भाषण सुन लीजिएगा, नरेंद्र भाई का हर एक भाषण देश की राष्ट्रभाषा में ही होगा

इधर, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लेकर केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नीतिन गडकरी तक कई बड़े नेताओं ने ट्वीट के जरिए महात्मा गांधी और देश के लिए उनके योगदान को याद किया है.