टेलीकॉम कंपनीज़ वोडाफोन-आइडिया (VI),एयरटेल और रिलायंस जियो ने अभी कुछ माह पहले ही अपने प्लांस की कीमतों में बढ़ोतरी की थी लेकिन वोडाफोन-आइडिया (VI) 2022 या 2023 में अपने प्रीपेड टैरिफ प्लांस की कीमतों की बढ़ोतरी की प्लानिंग कर रही है वोडाफोन-आइडिया (VI) के CEO रविंदर टक्कर के अनुसार कंपनी द्वारा एक महीने (28 दिन) की सर्विस वैलिडिटी देने वाले सबसे सस्ते प्लान की कीमत जो कि ₹99 की गई है यह 4जी सेवाओं को यूज कर रहे यूजर्स के लिए ज्यादा महंगा नहीं है।

टक्कर ने यह भी कहा है कि इस साल एक बार फिर इन प्लांस की कीमतों में इजाफा किया जा सकता है एक रिपोर्ट के अनुसार VI के CEO ने बताया है कि पिछले प्रीपेड टेरिफ की कीमतों मे बढ़ोतरी के बीच लगभग 2 साल का अंतर था जो कि काफी लंबा माना जा सकता है लेकिन इस बार कंपनी ने पहले से ही 2022 या 2023 में प्रीपेड टैरिफ प्लांस की कीमतों में बढ़ोतरी के साथ आगे बढ़ने का सही समय मान रही है जो सही भी लगता है

बात करें vodafone-idea कि सब्सक्राइबर की तो यह पहले से ही जियो और एयरटेल से काफी कम है शायद इसकी वजह इनके महंगा प्लांस भी हो सकते हैं क्योंकि प्लांस के महंगे होने के बाद Subscriber Base एक साल में लगभग 26 करोड 99 लाख से घटकर 24 करोड़ 72 लाख पर आ गया जो कि एक बड़ा आंकड़ा है लेकिन टैरिफ महंगे होने के बाद भी अगर प्रति यूज़र्स औसत रेवेन्यू  की बात की जाए तो इसमें 5% की कमी आई है वहीं 2020-21 में APO ₹180 हुआ करता था जो अब घटकर ₹115 पर आ गया है

इसी के साथ वोडाफोन आइडिया की परेशानियां भी खत्म होने का नाम ही नहीं ले रही दिसंबर 2021 की आखिरी 3 महीने की बात करें तो कंपनी का घाटा लगभग 7,230 करोड रुपए  था जो 1 साल पहले इसी समय 4,532 करोड़ था, देखना यह होगा कि प्रीपेड प्लांस की कीमतें बढ़ने के बाद vodafone-idea की आगामी सर्विसेज से यूजर्स कितना खुश रहते हैं