पंजाब। आम आदमी पार्टी ने मंगलवार को पंजाब में अपने सीएम पद के उम्मीदवार का एलान कर दिया है। पार्टी ने अटकलों पर विराम लगाते हुए संगरूर से दो बार के लोकसभा सांसद भगवंत मान को सीएम पद का उम्मीदवार बनाया है। आम आदमी पार्टी संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को भगवंत मान के नाम की घोषणा की। इस घोषणा के बाद बीजेपी और सत्‍तारूढ़ पार्टी कांग्रेस खेमे में खलबली मच गई है।

93 फीसदी ने पसंद किया मान का नाम
अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा, ”कई लोगों ने मुख्यमंत्री के लिए मेरा नाम डाल दिया। 93.3 फीसदी लोगों ने सरदार भगवंत मान को पसंद किया है। आज आम आदमी पार्टी की तरफ से पंजाब के मुख्यमंत्री का चेहरा सरदार भगवंत मान को घोषित किया जाता है। इससे पहले पिछले सप्ताह केजरीवाल ने जनता की रायशुमारी के जरिए मुख्यमंत्री उम्मीदवार चुनने का ऐलान किया था। आप ने एक मोबाइल नंबर जारी कर पंजाब के लोगों से सीएम पद के उम्मीदवार पर की पसंद बताने के लिए कहा था। हालांकि अरविंद केजरीवाल ने पहले ही साफ कर दिया था कि सीएम पद के लिए भगवंत मान उनकी पसंद है।

पंजाब के बाहर भी निभाई बड़ी भूमिका
मान ने पंजाब के बाहर भी आम आदमी पार्टी के लिए लगातार बड़ी भूमिका निभाई है। वे पार्टी के एकमात्र ऐसे सांसद है जो दूसरी बार लोकसभा चुनाव जीतकर पहुंचे हैं। साल 2019 के लोकसभा चुनाव में वो आम आदमी पार्टी के देशभर में अकेले नेता थे, जो दोबारा जीत कर लोकसभा पहुंचे। मान ने अब तक पार्टी के शीर्ष नेतृत्व का कभी विरोध नहीं किया है। यही वजह है कि अरविंद केजरीवाल ने भी सीएम पद के लिए उन्हें अपनी पसंद बताया है।

मैं पार्टी का वफादार सिपाही
वहीं भगवंत मान को पार्टी की ओर से सीएम पद का उम्मीदवार बनाये जाने से पहले कहा था, मैं पार्टी का एक वफादार सिपाही हूं। मुझे जो भी कर्तव्य दिया जाएगा, मैं उसे निभाऊंगा। अगर मुझे दीवारों पर पोस्टर चिपकाने या किसी चौक पर पार्टी का चुनाव चिह्न् लहराने के लिए कहा जाता है, तो मैं खुशी-खुशी ऐसा करूंगा। मेरे लिए पंजाब महत्वपूर्ण है, केजरीवाल ने मुझ पर बहुत भरोसा किया है।