एएनआई : हैदराबाद के सांसद और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर हमले की निंदा करते हुए एआईएमआईएम समर्थकों सहित बड़ी संख्या में लोगों ने चारमीनार पर विरोध प्रदर्शन किया। लोगों के प्रदर्शन के दौरान हैदराबाद की चारमीनार में अच्छा खासा पुलिस और केंद्रीय बल मौजूद दिखाई दिया।

क्या हुआ था कल ?

जानकारी देते हुए बता दें कि, उत्तर प्रदेश में कल एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी अपने चुनाव प्रचार अभियान के दौरे पर थे इस दौरान उनके वाहन पर फायरिंग की गई। ओवैसी ने कल इस घटना को लेकर शाम 6 बजे ट्वीट किया और कहा, “कुछ देर पहले छिजारसी टोल गेट पर मेरी गाड़ी पर गोलियां चलाई गयीं, 4 राउंड फ़ायर हुए, 3-4 लोग थे, सब के सब भाग गए और हथियार वहीं छोड़ गए।मेरी गाड़ी पंक्चर हो गई, लेकिन मैं दूसरी गाड़ी में बैठ कर वहां से निकल गया। हम सब महफ़ूज़ हैं‌। अलहमदुलिलाह”

लोकतंत्र में हिंसा ठीक नहीं

समाजवादी पार्टी ने कहा लोकतंत्र में किसी भी प्रकार की हिंसा नहीं होनी चाहिए। यह घटना निंदनीय है। कुछ देर बाद हापुड़ के पुलिस अधीक्षक ने हमलावर की गिरफ्तारी का दावा किया। ओवैसी ने निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए कहा, “मैं चुनाव आयोग से इस हमले की घटना की स्वतंत्र जांच के आदेश देने का अनुरोध करता हूं।”

सपा और रालोद गठबंधन के प्रत्याशियों ने भी इस घटना की आलोचना की। बता दें कि पहले चरण की 58 में से 12 सीटों पर ओवैसी की पार्टी के उम्मीदवार चुनाव में उतरे हुए हैं, उनका भाग्य क्या होगा, यह तो 10 मार्च को ही पता चल सकेगा।

कल हमला होने पर ओवैसी ने कहा था कि हम इस मामले को संसद में उठाएंगे। साथ ही एआईएमआईएम समर्थक और लोग भी पूरे देश में इस मामले को उठाएं, ऐसा ओवैसी ने कहा था। ओवैसी के कहने के बाद देशभर में इस घटना की आलोचना की गई है। जगह-जगह से विरोध प्रदर्शन देखने को मिल रहे हैं।