गुजरात की अहमदाबाद पुलिस ने यमन के 36 वर्षीय नागरिक को असॉल्ट राइफलों और एके-47 के पुर्जों के साथ गिरफ्तार किया गया है। पुलिश ने अंदेशा जताया की यमन के नागरिक ने कथित तौर पर गुजरात में मौजूद एक इंजिनियरिंग कंपनी से ये पुर्जे बनवाये गए थे। पुलिश को मिली गुप्त सूचना के आधार पर अहमदाबाद क्राइम ब्रांच ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया । अब उससे पूछताछ की जा रही है।

पुलिस ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि अब्दुल अजीज अल अजान नाम का एक संदिग्ध व्यक्ति अहमदाबाद के एक होटल में ठहरा हुआ था । पुलिस ने 9 फरवरी को इसी होटल में छापा मारा और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया । आरोपी की तलाशी के दौरान उसके पास से असॉल्ट राइफल और AK- 47 के पुर्जे बरामद किए।पुलिस के अधिकारियो ने बताया कि पुलिस ने उसके पास से एक फ्रंट साइट , एक गैस ब्लॉक,शॉर्ट बैरल और एके-47 के साथ साथ विभिन्न प्रकार के असॉल्ट राइफल के अन्य यांत्रिक पुर्ज़ों को भी बरामद किया हैं।
आरोपी पेशे से है मज़दूर :-
अधिकारियो ने बताया कि अहमदाबाद की क्राइम बाँच को जीआईडीसी के काठवाड़ा इलाके में स्थित क़रीब दो कंपनियों से 150 मोम के सांचे और चार डाइ बरामद कि गयी है । प्रारम्भिक जांच से पता चल रहा है कि आरोपी यमन के अल-बैदाह सिटी का निवासी है। वह पेशे से मजदूरी और किसानी का काम करता है।वो अपने
पिता का इलाज कराने आया था मुंबई :-
क्राइम ब्रांच की ओर से एक बयान जारी किया गया है जिसके अनुसार “आरोपी यमन में AK -47 और असॉल्ट राइफल की मांग को देखते हुए मुनीर मोहम्मद नामक के एक व्यक्ति ने भारत से इन पुर्जों को हासिल करने पर अब्दुल अजीज को कमीशन देने का ऑफ़र रखा था।
आरोपी अपने पिता के इलाज के लिए मुंबई आया था और इलाज के बाद पिता को वापस भेज भी दिया। पिता को वापस भेजने के बाद वह अहमदाबाद चला आया और यहां आकर उसने पुर्जों की डाइ बनाने के लिए डीके इंजिनियरिंग नामक कंपनी में सम्पर्क किया “।