यूक्रेन पर रूस का हमला बुधवार को यानी सातवें दिन भी जारी रहा है। यूक्रेन के खार्किव समेत कई मुख्य शहरों में लगातार रूस के हमले हो रहे हैं। आपको बता दे यहां 24 घंटे में हुए हमलों में करीब 21 लोग मार दिए गए, वही 122 लोगों के घायल होने की सूचना मिली है आज यानी बुधवार की सुबह रूसी पैराट्रूपर्स ने खार्किव के एक हॉस्पिटल पर हमला किया। वहीं दूसरी तरफ , यूक्रेन के राष्ट्रपति वोल्दोमिर जेलेंस्की ने भी यह दावा किया है कि अभी तक की जंग में करीब 6000 रूसी सैनिक मार गिराए गए।

अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बुधवार रात यानी आज यह कहा कि- यदि यूक्रेन के राष्ट्रपति वोल्दोमिर जेलेंस्की चाहते है तो हम उन्हें वहां से निकाल सकते हैं। यह उनकी इच्छा पर निर्भर करता है , वो चाहें तो यूक्रेन को छोड़ दें या फिर वहीं रहें। हम उनकी हर मुमकिन मदद करने को तैयार हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन का बयान काफी अहम है, जैसा कि सोमवार को सीएनएन ने यह दावा किया था कि सीआईए की स्पेशल यूनिट किसी भी वक्त यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की को एयरलिफ्ट कर लेगी।

वही भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कुछ देर पहले रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन से बातचीत की। आपको बता दे जंग छिड़ने के बाद दोनों नेताओं की यह दूसरी बार बातचीत थी। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि इस दौरान भारतीय लोगों की सुरक्षित वापसी पर विचार विमर्श हुआ है ।

जंग छिड़ने के बाद यूक्रेन के नागरिक दूसरे देशों में पलायन करने को मजबूर हो गए है। यूक्रेन की सीमा तट से लगे हुए पोलैंड, हंगरी, मालदोवा, रोमानिया, स्लोवाकिया और बेलारूस में सबसे ज्यादा माइग्रेशन हुआ है। सबसे ज्यादा अचंभे की बात यह है कि जिस देश ने यूक्रेन पर हमला किया है यानी की रूस, वहां से भी एक लाख से ज्यादा लोगों ने अपने देश से पलायन कर दिया है।

वही अगर हम बात करे अमेरिका की तो अमेरिका ने अपने हवाई क्षेत्र से रूसी उड़ानों को प्रतिबंधित कर दिया है।
यूक्रेन की डिफेंस मिनिस्ट्री का कहना है कि कई रूसी सैनिक हमारी गिरफ्त में हैं। इन्हें जन्म देने वाली माताएं आए और इन्हें अगर ले जाना चाहे तो ले जाए। मंगलवार को एक रिपोर्ट में इन सैनिकों की संख्या करीब 60 बताई गई थीं।
एक जारी बयान में वर्ल्ड बैंक का कहना है कि वह यूक्रेन की सहायता के लिए 3 अरब डॉलर की मदद करेगा, जिसमें से 35 करोड़ डॉलर अगले हफ्ते तक यूक्रेन को भेज दिए जाएंगे।

हेग में स्थित अंतरराष्ट्रीय न्यायालय आईसीजे यूक्रेन में नरसंहार के दावों को लेकर अगले हफ्ते यानी सोमवार से पब्लिक हियरिंग भी शुरू करेगा।ब्रिटिश विदेश सचिव लिज ट्रस ने रूस पर नए प्रतिबंधों का ऐलान करते हुए ब्रिटेन के बंदरगाहों पर रूसी जहाजों को बैन कर दिया है।अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने US कांग्रेस में state of the union को संबोधित करते हुए कहा कि – रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने यह गलत कदम उठाया है। वो यूरोप को बांटना चाहते थे।