देश में वियरेबल मार्केट काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है। स्मार्टफोन के बाद स्मार्ट वियरेबल (स्मार्ट बैंड, स्मार्टवॉच) बाजार में एक नई लहर चल रही है। नई रिसर्च के अनुसार वियरेबल कैटेगरी में घरेलू कंपनियों ने चाइनीज कंपनियों को पीछे छोड़ दिया है। हरियाणा के गुरुग्राम की Noise और Fire-Boltt ने कभी देशी बाजार की नंबर-1 स्मार्टवॉच ब्रांड Amazfit को धूल चटा दी है। साल 2021 में इन दोनों कंपनियों के स्मार्टवॉच की शिपमेंट में 9.6 milion की ग्रोथ हुई है।

इंटरनेशनल डाटा कॉरपोरेशन (IDC) की रिपोर्ट के अनुसार 2021 में भारत में स्मार्टवॉच मार्केट का ग्रोथ 364.1 फीसदी रहा है। इस दौरान 12.2 मिलियन यूनिट की ग्रोथ देखने को मिली है जो कि 2020 में 2.63 milion यूनिट थी। साल 2021 की चौथी तिमाही में स्मार्टवॉच कंपनियों ने 4.9 मिलियन स्मार्टवॉच की शिपमेंट की है जो कि साल-दर-साल ग्रोथ में 271.2 फीसदी का इजाफा है।

27 फीसदी मार्केट शेयर के साथ Noise टॉप पर
घरेलू कंपनी Noise का मार्केट शेयर सबसे ज्यादा 27 फीसदी है।

Noise के बाद दूसरे नंबर पर Boat है जिसका मार्केट शेयर 25.1 फीसद है। तीसरे नंबर पर 11.6 फीसदी मार्केट शेयर के साथ Fire-Boltt है जो कि एक घरेलू कंपनी है यानी टॉप-5 में तीन घरेलू कंपनियां हैं। मार्केट शेयर के लिहाज से चौथे नंबर पर Realme और पांचवें पर Amazfit है।

भारतीय बाजार में एंट्री लेवल स्मार्टवॉच की औसत कीमत करीब 4,600 रुपये हो गई है जो कि 2020 में 9,200 रुपये थी। Xiaomi ने स्मार्टबैंड बाजार में अपनी बढ़त बनाए रखी, लेकिन IDC के मुताबिक 2021 में उसके शिपमेंट में 43.7 फीसद की गिरावट आई है।

पारंपरिक स्मार्टवॉच मेकर Apple के लिए साल 2021 सपाट रहा। इस दौरान Apple Watch SE का कुल वॉल्यूम में करीब 44 फीसदी की हिस्सेदारी थी। दूसरी ओर, एपल वॉच सीरीज 7 की शिपमेंट ने चौथी तिमाही में 1,00,000 यूनिट के आंकड़े को पार कर लिया है।