ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर क्रिकेटर जेम्स फॉकनर ने शनिवार को देश के क्रिकेट बोर्ड (PCB) पर उनके अनुबंध का सम्मान ना करने, पैसा ना देने का आरोप लगाने के बाद पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) को अचानक छोड़ दिया, जिसके बाद बोर्ड ने उन पर प्रतिबंध लगा दिया है, क्वेटा ग्लैडिएटर्स के लिए खेलने वाले जेम्स फॉकनर ने अपने ट्विटर हैंडल के माध्यम से टीम होटल और बायो बबल को छोड़ने की जानकारी दी है साथ ही उन्होंने क्रिकेट बोर्ड पीसीबी और पीएसएल प्रबंधन पर उन्हें झूठ बोलने और उनके साथ अपमानजनक व्यवहार करने का आरोप भी लगाया है।

हालांकि जेम्स फॉकनर के इस आरोप के जवाब में पीसीबी और क्वेटा ग्लैडिएटर्स ने जवाब दिया है कि जेम्स फॉकनर को उनके अनुबंध संबंधी दायित्वों को ध्यान में रखते हुए लीग में भाग लेने के लिए उनको दिए जाने वाले पैसे का भुगतान किया जा चुका है और यह भी कहा गया है कि भविष्य में टी-20 टूर्नामेंट में इस ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर को नहीं चुना जाएगा।
जेम्स फॉकनर ने इस पर कहा कि “मैं पाकिस्तान क्रिकेट प्रशंसकों से माफी मांगना चाहता हूं लेकिन बदकिस्मती से मुझे आखिरी दो मैचों से हटना पड़ रहा है पीसीबी द्वारा मेरे अनुबंध भुगतान का सम्मान नहीं करने के कारण मुझे पीएसएल छोड़ना पढ़ रहा है” जेम्स फॉकनर ने इस पूरे टूर्नामेंट में अपनी उपस्थिति दर्ज करने और क्रिकेट बोर्ड पर झूठ बोलने का आरोप भी लगाया है ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ने आगे कहा कि टूर्नामेंट छोड़ना उनके लिए बेहद दुखद है क्योंकि या पाकिस्तान में इंटरनेशनल क्रिकेट को वापस लाने में मदद करना चाह रहे थे।

जेम्स फॉकनर ने यह दावा किया है कि उनके ऐसा करने के प्रयासों के बावजूद पीसीबी और पीएसएल के प्रबंधन ने उनके साथ अपमानजनक व्यवहार किया है, हालांकि पीसीबी और क्वेटा ग्लैडिएटर्स ने पाटनर पर निंदनीय और अपमानजनक व्यवहार करने और होटल की संपत्ति को जानबूझकर नुकसान पहुंचाने और इसके साथ ही हवाई अड्डे पर आव्रजन अधिकारियों के साथ गैर जिम्मेदाराना और अपमानजनक व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए यह भी कहा कि वह उनके इस निंदनीय व्यवहार से निराश है।