PMLA की विशेष अदालत ने महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक को 3 मार्च तक ED की हिरासत में भेजा। महाराष्ट्र की महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार में मंत्री और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता नवाब मलिक पर बुधवार को ईडी ने बड़ी कार्रवाई की। जांच एजेंसी ने बुधवार अलसुबह सदेंहात्मक भूमि सौदे से जुड़े एक मनी लॉन्ड्रिंग मामले में उनके घर पर छापा मारा। इस बीच नेताओं के बीच बयानबाजी और आरोप—प्रत्यारोप का दौर भी शुरू हो गया है. इस बीच नवाब मलिक के वकील तारिक सैय्यद ने कहा कि अदालत कल हमारे आवेदन पर सुनवाई करेगी जिसमें नवाब मलिक को उनकी हिरासत के दौरान दवाएं ले जाने और घर से भोजन प्राप्त करने की अनुमति मांगी गई है। साथ ही हिरासत में पूछताछ के दौरान वकील की उपस्थिति की भी मांग की गई है.

MVA की सरकार गिराने के लिए केंद्र सरकार ऐसी हरकतें कर रही

ED द्वारा नवाब मलिक की गिरफ़्तारी पर महाराष्ट्र के पूर्व CM और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस न ने कहा कि दाऊद जैसे देश के दुश्मन को मदद जिसके माध्यम से हुई उसको बचाने के लिए और उनका मंत्री पद बचाने के लिए पूरी सरकार (महाराष्ट्र सरकार) उनके पीछे खड़ी है, इसका देश को जवाब इस सरकार को देना पड़ेगा. वहीं, महाराष्ट्र सरकार में मंत्री छगन भुजबल ने कहा कि नवाब मलिक को ED ने गलत तरह से गिरफ़्तार किया है। कोर्ट में कई सालों तक 1992 बम धमाका मामला चला जिसमें बहुत लोगों को फांसी और सज़ा हुई थी। उस मामले में नवाब मलिक का नाम कहीं नहीं आया था. छगन भुजबल ने कहा कि इसके विरोध में कल मंत्रालय के पास स्थित गांधी जी के पुतले के पास हमारे मंत्री और परसों हमारे कार्यकर्ता पूरे तालुका में प्रदर्शन करेंगें। नवाब मलिक ने कुछ गलत नहीं किया है इसलिए उनका इस्तीफा नहीं लिया जाएगा। MVA की सरकार गिराने के लिए केंद्र सरकार ऐसी हरकतें कर रही है.

नवाब मलिक का इस्तीफा नहीं लिया जाएगा

इस बीच केंद्रीय मंत्री रावसाहब दानवे ने अपने बयान में कहा कि अगर इस सरकार(महाराष्ट्र सरकार) को लगता है कि कोई गुनहगार मंत्री नहीं रहना चाहिए तो उन्हें नवाब मलिक से तुरंत इस्तीफा लेना चाहिए… NCP नवाब मलिक का समर्थन करके उनका नहीं दाऊद इब्राहिम गैंग का समर्थन कर रही है. शिवसेना नेता संजय राउत ने ट्वीट कर कहा कि नवाब मलिक का इस्तीफा नहीं लिया जाएगा। दाऊद इब्राहिम मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने नवाब मलिक को आज गिरफ़्तार किया था।