भारत

National Creators Award: जया किशोरी और मैथिली ठाकुर को नेशनल अवॉर्ड मिला, PM मोदी को शिव भजन सुनाया

National Creators Award 2024

National Creators Award 2024: कथावाचक जया किशोरी और लोकगायिका मैथिली ठाकुर को सम्मानित किया गया। कथावाचक जया किशोरी को सोशल बदलाव के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ कलाकार का पुरस्कार मिला है। वहीं, लोकगायिका मैथिली ठाकुर को कल्चरल एंबेसेडर ऑफ द ईयर अवॉर्ड मिल गया।

प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर National Creators Award से कई युवा हस्तियों को सम्मानित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने भारत मंडपम में आयोजित कार्यक्रम में कथावाचक जया किशोरी और लोकगायिका मैथिली ठाकुर समेत कई युवा हस्तियों को सम्मानित किया। कथावाचक जया किशोरी को सोशल बदलाव के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ कलाकार का पुरस्कार मिला है। वहीं, लोकगायिका मैथिली ठाकुर को कल्चरल एंबेसेडर ऑफ द ईयर अवॉर्ड मिल गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह पुरस्कार देश की सोशल मीडिया कंटेंट कम्युनिटी में नवाचार और क्रिएटिविटी की दिशा में उठाए गए कदमों को सम्मानित करने का है।

Eid-Ul-Fitr और Eid-Al-Adha के बीच क्या फर्क है? महत्व भी जानें

जया किशोरी से पीएम मोदी ने पूछा परिचय

इंटरनेशनल विमेंस डे पर PM मोदी ने National Creators Award कार्यक्रम में यूट्यूब और सोशल मीडिया क्रिएटर्स को सम्मानित किया; जया किशोरी को बेस्ट क्रिएटर फॉर सोशल चेंज का पुरस्कार मिला। जया किशोरी ने आधुनिक तरीके से लोगों को आध्यात्मिक दुनिया की ओर प्रेरित किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने मंच पर पुरस्कार लेने पहुंची जया किशोरी से उनका परिचय पूछा। जया किशोरी ने कहा, “मैं कथाकार हूँ।” मैं श्रीमद भागवतम और गीता पढ़ता हूँ। इन्हीं बातों से मैं बचपन में गुजरा हूँ, और इसके परिणामस्वरूप मैं बदल गया हूँ, चाहे वह शांति, सुकून, खुशी हो या मैं बदल गया हूँ।

‘अध्यात्म मतलब झोला लेकर चले जाना’ पीएम मोदी

प्रधानमंत्री मोदी ने जया किशोरी की मृत्यु पर कहा, “लोगों को डर लगता है कि अध्यात्म मतलब झोला लेकर चले जाना।” PM की बात पर जया किशोरी ने कहा, “ऐसा बिल्कुल नहीं है। श्रीमद भगवत गीता, जो एक राजा बनने वाले व्यक्ति को सुनाई जाती है, सबसे बड़ा आध्यात्मिक ज्ञान है। राजा की संपत्ति सबसे बड़ी है। गीता में भगवान कृष्ण ने राज्य छोड़ने को कभी नहीं कहा। बस कहा कि अपना धर्म जहां भी पूरा करो। बुढ़ापे में भगवान से जुड़ना सबसे बड़ी बात है। लेकिन यह एक गलत विचार है। क्योंकि युवाओं को अध्यात्म की सबसे अधिक आवश्यकता है।

फेसबुक और ट्विटर पर हमसे जुड़ें और अपडेट प्राप्त करें:

facebook-https://www.facebook.com/newz24india

Related Articles

Back to top button
Share This
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज