राशिफल

शनि साढ़ेसाती में इन चीजों को कभी भी नहीं करें, वरना शनि देव का पड़ेगा प्रकोप

शनि साढ़ेसाती

शनि साढ़ेसाती बहुत बुरी है। जिन पर साढ़ेसाती चलती है, उनका जीवन कठिन होता है। साढ़ेसाती से बचने के लिए कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।

न्याय के देवता शनि हैं। शनि प्रत्येक व्यक्ति को उसके कार्यों के अनुसार प्रतिफल देता है। शनि दोष में साढ़ेसाती सबसे खराब होती है। शनि की साढ़ेसाती में व्यक्ति को बहुत दर्द उठाना पड़ता है।

शनि साढ़ेसाती तीन चरणों वाली ग्रह दशा है, जो साढ़े सात साल तक चलती है। सभी ग्रहों में से शनि सबसे धीमी गति से घूमता है। शनि को एक राशि से दूसरी राशि तक गोचर करने में ढाई वर्ष लगते हैं। शनि की साढ़ेसाती में बहुत कुछ ध्यान रखना होगा।

शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव (Shani Sade Sati Effects)

शनि साढ़ेसाती में व्यक्ति मानसिक तनाव में रहता है। शनिदेव कर्मफल दाता है। जिन लोगों की कुंडली में शनि की शुभ स्थिति है, उनके लिए शनि की साढ़ेसाती काफी लाभदायक होती है। वहीं भारी शनि या कमजोर शनि की कुंडली वाले लोगों को साढ़ेसाती की बीमारी का सामना करना पड़ता है।

शनि साढ़ेसाती में पदोन्नति के रास्ते में बाधाएं व्यापार में हानि, धन की कमी, ऋण का बोझ, आर्थिक तंगी, शारीरिक कमजोरी, थकान, आलस्य और बीमारियाँ होती हैं।

शनि की साढ़ेसाती में नहीं करने चाहिए ये काम (Shani Sade Sati Precaution)

शनि साढ़ेसाती में कोई भी जोखिम भरा काम नहीं करना चाहिए। घर या कार्यस्थल पर किसी से भी बेवजह बहस करने से बचें। वाहन चलाते समय सतर्क रहना अनिवार्य है।

दूसरों को परेशान करना, चोरी करना, झूठ बोलना, धोखा देना और गलत तरीकों से पैसा कमाने से बचना चाहिए। लालच और क्रोध पर नियंत्रण रखें। जूठा और बासी भोजन नहीं खाना चाहिए। नियमित रूप से सात्विक भोजन करें।

जिन लोगों पर शनि की साढ़ेसाती है, वे रात को अकेले नहीं जाना चाहिए। शनिवार और मंगलवार को मांस खाने से बचें। काले कपड़े या चमड़े के सामान खरीदने से भी इन दोनों दिनों बचना चाहिए।

Thumb Palmistry: अंगूठा व्यक्तित्व का पूरा राज खुलता है

शनि साढ़े साती के उपाय (Shani Sade Sati Upay)

साढ़ेसाती में शनिदेव को प्रसन्न करने के उपाय करना चाहिए। शनिवार को शनि देव की पूजा करनी चाहिए। ज्योतिषीय सलाह प्राप्त करने के बाद आप नीलम रत्न पहन सकते हैं। इससे साढ़ेसाती प्रभावित नहीं होती।

शनिवार के बुरे प्रभाव से बचने के लिए हर दिन हनुमान चालीसा पढ़ना बहुत फायदेमंद है। शनिवार और मंगलवार को गरीबों और जरूरतमंद लोगों को भोजन और कपड़े दें। जिन लोगों पर साढ़ेसाती होती है, उन्हें हर दिन शनि स्तोत्र पढ़ना चाहिए।

जरूरतमंदों, असहायों और जानवरों की सेवा करने से शनि देव प्रसन्न होते हैं। सूर्योदय और सूर्यास्त के समय ध्यान करना भी शनि को प्रसन्न करने का एक अच्छा तरीका है। शनिवार को काले वस्त्रों और तेल का दान करने से साढ़ेसाती से छुटकारा मिलता है।

फेसबुक और ट्विटर पर हमसे जुड़ें और अपडेट प्राप्त करें:

facebook-https://www.facebook.com/newz24india

Related Articles

Back to top button
Share This
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज