रूस और यूक्रेन के बीच खूनी जंग अभी भी जारी है एक तरफ जहां 4 दिनों से रूस लगातार यूक्रेन पर मिसाइलें छोड़ रहा है तो वहीं दूसरी ओर दोनों देशों के बीच बन रही है भयावह स्थिति को देखकर अन्य देश भी चिंता में है दरअसल इन दोनों देशों के रिश्ते पिछले कई महीनों से खराब चल रहे थे। और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की ओर से आदेश मिलने के बाद रूस की सेना ने गुरुवार सुबह यूक्रेन पर हमला कर दिया हालांकि रविवार को दोनों ही देश एक बार फिर बातचीत के लिए सहमत हुए मीडिया से मिल रही रिपोर्ट के अनुसार रूस और यूक्रेन, बेलारूस और यूक्रेन की सीमा पर युद्ध के बीच बातचीत के लिए सहमत हुए और दोनों देशों के प्रतिनिधि पहले रूस और यूक्रेन के बॉर्डर पर अभी और है।
यूक्रेन में फिलहाल तबाही मची हुई है इस युद्ध में कई लोगों की जानें पहले ही कर चुके हैं तो कई लोग गंभीर रूप से जख्मी हो गए और रूस द्वारा यूक्रेन में नागरिकों पर हमला करने के साथ ही सैनिक गानों को पूरी तरीके से दावा किया था सोशल मीडिया पर ऐसी कई तस्वीरें और वीडियो देखे जा सकते हैं जिसे देखकर हर किसी की आंख नम हो जाए।
इसी बीच की और मास्को के बीच बढ़ते तनाव के दौरान यूक्रेन के विदेश मामलों के मंत्री दिमित्री कुलेबा ने रविवार को g7 विदेश मंत्रियों के साथ एक बैठक की और उसमें रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा शुरू किए गए इस युद्ध को रोकने के लिए दर्दनाक प्रतिबंधों को लेकर चर्चा भी की जिसमें दिमित्री कुलेबा ने ट्वीट में लिखा “G7 विदेशी मंत्रियों के साथ बैठक भागीदार यूक्रेन को स्वयं का बचाव करने के लिए और अधिक व्यावहारिक साधन उपलब्ध कराने के लिए तैयार, हमारे देश के लिए सैन्य उपकरण रक्षात्मक हथियार और वित्तीय सहायता भी जारी है, हमने पुतिन के युद्ध को रोकने के लिए नए दर्दनाक प्रतिबंधों पर भी चर्चा की है”