उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव अपने पूरे शबाब पर पहुंच गया है. यूपी में 20 फरवरी को होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए राजनीतिक दलों ने पूरी ताकत झोंक दी है. इस बीच उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस व समाजवादी पार्टी पर जमकर निशाना साधा. सीएम योगी ने कहा कि अभी तो पहले और दूसरे चरण का मतदान हुआ है। अब ये चुनाव जनता के हाथ में आ गया है। अब ये चुनाव आगे बढ़ते हुए 80 बनाम 20 के लक्ष्य को प्राप्त करेगा.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी हार की बौखलाहट में भाजपा के प्रत्याशियों पर हमले कर रही है। चुनाव आयोग को इस पर संज्ञान लेना चाहिए. क्या तीन तलाक की कुप्रथा को जारी रखने देना चाहिए? हमारी व्यक्तिगत स्वतंत्रता हमारा व्यक्तिगत विषय हो सकता है। शरीयत ये कोई अन्य कानून उसका व्यक्तिगत विषय हो सकता है, लेकिन हमें संस्थाओं को इससे ऊपर रखना होगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगे कहा कि जिनकी गर्मी आज निकल रही है, उनकी 10 मार्च के बाद अपने आप शांत हो जाएगी।

शिवपाल सिंह यादव पर भी जमकर निशाना साधा

सीएम योगी ने इस दौरान अखिलेश यादव के चाचा और पूर्व मंत्री शिवपाल सिंह यादव पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि जिसके पीछे हजारों लोग घूमते रहते थे, उस बेचारे शिवपाल की क्या स्थिति हो गई. पहले तो कुर्सी नहीं मिली, एक बार जगह मिली, वो भी कुर्सी का हत्था. सीएम योगी ने कहा कि चिंता मत कीजिए बुलडोजर अभी रुका नहीं है, 10 मार्च के बाद फिर से ये माफियाओं की छाती पर चलेगा. समाजवादी पार्टी का सच से दूर-दूर तक कोई वास्ता नहीं है।

वही गुंडागर्दी, वही अरजकता, वही मारपीट, वही धमकी

मुख्यमंत्री ने समाजवादी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा कि वही हवा है, वही सपा है। वही गुंडागर्दी, वही अरजकता, वही मारपीट, वही धमकी, वही माफिया, वही गुंडे. ये सब वही हैं, कुछ भी तो नहीं बदला है। जिसके पीछे हजारों लोग घूमते रहते थे, उस बेचारे शिवपाल की क्या स्थिति हो गई। आप अनुमान कर सकते हैं कि समाजवादी पार्टी का कमांडर ही स्वयं लड़ाई के मैदान से बाहर जा रहा है। तो फिर पूरी लड़ाई भाजपा पहले ही जीत चुकी है.