मुजफ्फरनगर : समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने आज मुजफ्फरनगर में प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की। सपा मुखिया अखिलेश यादव और रालोद प्रमुख जयंत चौधरी की मुजफ्फरनगर में प्रेस वार्ता शुरू हो गयी है, लेकिन इससे पहले अखिलेश ने सोशल मीडिया पर पोस्ट किया था। अखिलेश ने ट्विटर पर तस्वीर शेयर करते हुए कहा था कि सरकार ने अकारण ही हमारा प्लेन दिल्ली में रोका लेकिन इसकी कोई वजह नहीं बताई जा रही है। हालांकि करीब एक घंटे देरी से अखिलेश यादव मुजफ्फरनगर पहुंचे और प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए अखिलेश बोले, मैं और जयंत चौधरी हम दोनों किसानों के बेटे हैं और किसानों के हकों के लिए आखिर तक लड़ेंगे।

फ्री बिजली पर वादा करते हुए आगे अखिलेश यादव ने कहा, 300 यूनिट बिजली फ्री देंगे, सिंचाई के लिए बिजली माफ होगी। साथ ही किसानों के लिए MSP पर खरीद के लिए इंतजाम किए जाएंगे। गन्ने के भुगतान के लिए उन्हें इंतजार न करना पड़े इसके लिए फार्मर कॉरपस फंड और फॉर्म रिवाल्विंग फंड बनाएंगे।

भाजपा सरकार की निन्दा करते हुए अखिलेश यादव ने कहा, सपा सरकार में किसानों को गन्ने के भुगतान के लिए 15 दिन से ज्यादा का इंतजार नहीं करना पड़ेगा।

अखिलेश यादव ने भाजपा पर कई बातों में हमला बोला, उन्होनें कहा BJP ने सिर्फ झूठा प्रचार किया। BJP के लोग कोरोना फ़ैलाने के लिए पर्चा भी (थूक लगाकर) बांट रहे हैं। BJP का न्यौता कौन स्वीकार कर रहा है, उनके हालात ऐसे हैं, सोचो उन्हें (जयंत चौधरी) को न्यौता देना पड़ रहा है।

बता दें समाजवादी पार्टी और रालोद के इस गठबंधन में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, जनवादी पार्टी (सोशलिस्ट),अपना दल (कमेरावादी), प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया), महान दल और टीएमसी पार्टी शामिल हैं। यूपी में 7 चरणों में विधानसभा चुनाव होने हैं। जिसके लिए 10 फरवरी, 14 फरवरी, 20 फरवरी, 23 फरवरी, 27 फरवरी, 3 मार्च और 7 मार्च को मतदान होगा।