उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के चौथे चरण में कुल 9 जिलों की 59 सीटों पर आज मतदान शुरू हो चुका है चौथे चरण में पीलीभीत लखीमपुर खीरी सीतापुर हरदोई उन्नाव लखनऊ रायबरेली बांदा और फतेहपुर जिलों की कुल 59 विधानसभा सीटों पर मतदान चल रहे हैं जिसमें 2.12 करोड़ मतदाता क्षेत्र के 624 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करने जा रहे हैं पिछली बार के विधानसभा चुनाव 2017 में इन 59 में से 51 सीटों पर भाजपा ने जीत हासिल की हुई थी इसके अलावा समाजवादी पार्टी को चार बहुजन समाजवादी पार्टी को तीन और भाजपा के सहयोगी दल सोनेलाल को 1 सीट मिली थी।
यह अब तक का वोटिंग प्रतिशत..

बांदा 23.85%

फतेहपुर 22.49%

हरदोई 20.27%

खीरी 26.29%

लखनऊ 21.42%

पीलीभीत 27.43%

रायबरेली 21.41%

सीतापुर 21.99 प्रतिशत

उन्नाव 21.27%

आंकड़ों को देखें तो सुबह 11:00 बजे तक पीलीभीत में सबसे ज्यादा वोटिंग देखने को मिल रही है और इसके साथ ही हरदोई में सबसे कम मात्र 20.27% की वोटिंग देखने को मिली है
उम्मीद की जा रही है कि अगले 203 घंटों के अंदर इन सभी 9 जिलों में कुल मतदान प्रतिशत में बड़ा फर्क देखने को मिल सकता है
कई जगहों पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने ईवीएम के खराब होने का आरोप लगाया है पार्टी ने ट्वीट कर कहा कि बांदा जिले की विधानसभा नरैनी 234 बूथ संख्या 60 पर ईवीएम मशीन खराब है और लखीमपुर जिले के 137 बलिया विधानसभा क्षेत्र के बूथ नंबर 38 पर भी ईवीएम खराब है इसके अलावा फतेहपुर जिले की विधानसभा सीट बिंदकी 2029 के बूथ संख्या 193 194 पर बीएलओ की लापरवाही के चलते पहले पर्ची नहीं दी गई और अब पर्ची देने के बाद मतदाताओं को वोट नहीं डालने दिया जा रहा है।
इसके अलावा उन्नाव जिले में कई जगह मतदान का बहिष्कार किया गया वही कर्मचारियों ने खराब खाना मिलने का आरोप लगाया है लखनऊ में बीकेटी के मल्हन खेड़ा में बूथ पर गिने चुने वोटर्स ही पहुंचे हैं और ग्रामीणों ने मतदान का बहिष्कार कर दिया है अधिकारियों ने दावा किया है कि यह सभी लोग मतदान करेंगे लेकिन बूथ पर सुबह से ही काफी देर से सन्नाटा पसरा हुआ दिखाई दे रहा है