लखनऊ। यूपी में कांग्रेस ने महिलाओं को बढ़ावा देने और महिलाओं को आगे लाने के लिए एक नारा दिया ‘लड़की हूं, लड़ सकती हूं’। जो काफी फेमस भी हुआ है। इस नारे के पोस्‍टर पर जिस महिला की फोटो हैं उसका नाम प्रियंका मौर्य है। इस पोस्‍टर गर्ल को पार्टी की ओर से टिकट नहीं मिला है। अब खबर यह है कि‍ जल्‍द ही यह पोस्‍टर गर्ल भगवा ओढ़ सकती हैं। मतलब है कि जल्‍द ही प्रियंका मौर्य बीजेपी में शामिल हो सकती है। जानकारी के अनुसार उन्‍हें लखनऊ भाजपा मुख्‍यालय में देखा गया है। जिसकी वजह से अटकलें और भी ज्‍यादा तेजी हो गई हैं।

प्रियंका मौर्य ने लगाए आरोप
मौर्य ने कहा, ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ को केवल एक नारा के रूप में प्रस्तुत किया गया है क्योंकि लड़की के रूप में, मुझे चुनाव लड़ने की अनुमति नहीं थी क्योंकि मैं रिश्वत नहीं दे सकती थी। उन्होंने दावा किया कि टिकट उन्हें देने के बजाय एक महीने पहले पार्टी में शामिल हुए व्यक्ति को दिया गया। मौर्य ने कहा कि मैंने सभी औपचारिकताएं पूरी की, लेकिन टिकट पूर्व नियोजित था और एक महीने पहले आए एक व्यक्ति को दिया गया था। मैं कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी को यह संदेश देना चाहती हूं कि इस तरह की चीजें जमीन पर हो रही हैं। मौर्य ने कहा कि वह सरोजिनी नगर विधानसभा क्षेत्र में एक साल से अधिक समय से लगातार काम कर रही हैं, लेकिन उन्हें टिकट से वंचित कर दिया गया।

मुझे मोहरे के रूप में किया इस्‍तेमाल
उन्होंने कहा कि हमें महिलाओं और पिछड़े समुदाय के लोगों को लुभाने के लिए मोहरे के रूप में इस्तेमाल किया गया था। बहुत जल्द आप मुझे और मेरे समुदाय के सदस्यों को भाजपा के साथ देखेंगे। मौर्य की सोशल मीडिया प्रोफाइल, स्पष्ट रूप से उन्हें महिला कांग्रेस उपाध्यक्ष, डॉक्टर और सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में वर्णित करती है। यह 170, सरोजिनी नगर विधानसभा, लखनऊ की एक विधानसभा सीट को भी संदर्भित करता है। 14 जनवरी को पोस्ट किए गए एक ट्वीट में, मौर्य ने आरोप लगाया कि कांग्रेस का ‘लड़की हूं लड़ सकती हूं’ अभियान और कुछ नहीं, बल्कि एक धोखा है। लोग कहेंगे कि अगर आपको टिकट नहीं मिला, इसलिए आप ऐसा कह रही हैं। जांच करें और खुद पता लगाएं। हमें 2024 की तैयारी करने के लिए कहा गया था।