भारत में जारी कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर का पीक कब आएगा, इसके बारे में कुछ सटीक जानकारी नहीं मिल पा रही है. जिसकी सबसे बड़ी वजह रोजाना घट बढ़ रही कोरोना केसों की संख्या है. बीते 24 घंटे की बात करें तो राष्ट्रीय राजधानी में रविवार को कोविड-19 के 9,197 नए मामले सामने आए, जो शहर में तीसरी लहर शुरू होने के बाद पहली बार 10,000 से कम है. इसके साथ बीते एक दिनों में कोरोना की वजह से 34 लोगों की जान चली गई.

 दिल्ली: PM मोदी ने सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण किया

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर रविवार को जारी की गई एक रिपोर्ट के अनुसार राजधानी दिल्ली में 4 जनवरी को 5,481 कोविड मामले दर्ज किए गए और तब से मामले बढ़ते रहे. दिल्ली में ताजा कोरोना मामलों के साथ कुल संख्या 17,91,711 हो गई है. जबकि इस समयावधि में 34 लोगों की कोरोना की वजह से मौतें भी हुई हैं. इसके साथ ही दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की संख्या 25,620 हो गई है.

 UP Election: SP छोड़ BJP में आयीं अपर्णा ने ससुर के छुए पैर, जानें मुलायम ने क्या दिया आशीर्वाद?

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट में बताया गया कि केंद्र शासित प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 54,246 हो जाने के साथ दिल्ली की पॉजिटिविटी दर घटकर 13.32 प्रतिशत हो गई है. इसके साथ ही कोरोना का रिकवरी रेट 95.54 प्रतिशत के साथ दिल्ली में कोरोना के एक्टिव केसों की दर 3.02 प्रतिशत है. हालांकि इस दौरान मृत्युदर घटकर 1.43 प्रतिशत हो गई है.

 Parakram Diwas 2022: नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर PM ने दी श्रद्धांजलि, प्रतिमा का करेंगे अनावरण

आपको बता दें कि दिल्ली में बीते एक दिन में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 13,510 रही है. जिसके साथ ही कोरोना को मात देनों वालों की संख्या बढ़कर 17,11,845 हो गई है. इस समय कुल 42,438 कोविड मरीजों का होम आइसोलेशन में इलाज चल रहा है.