मुंबई। दक्षिण मुंबई के तारदेव में शनिवार तड़के एक रेजिडेंश‍ियल बिल्डिंग की 18वीं मंजिल में आग लग गई। जिसमें अब तक 6 लोगों की मौत हो चुकी है। 5 लोगों की हाल अभी अस्‍पताल में नाजुक बनी हुई है। हालिया लिस्‍ट में 29 लोगों के नाम हैं। 7 लोगों को उपचार के बाद डिस्‍चार्ज कर दिया गया है। इस घटना के बाद से सरकार भी हरकत में हैं। बयानों का दौर शुरू हो गया है।

इस बिल्डिंग में लगी आग
बीएमसी आपदा नियंत्रण की ओर से मिली जानकारी के अनुसार सुबह करीब साढ़े सात बजे 20 मंजिला कमला बिल्डिंग के ऊपरी हिस्से में आग लगी थी। मुंबई फायर ब्रिगेड (एमएफबी) दमकल की गाड़ियों के साथ पहुंची क्योंकि आग की लपटें तेजी से दो ऊपरी मंजिलों तक फैल गईं, जिससे इमारत के निवासियों में दहशत फैल गई। एमएफबी टीमों ने कम से कम 22 घायलों को की जान बचाई है। जिनमें से पांच की हालत काफी नाजुक बनी हुई है। सभी को पास के बीवाईएल नायर अस्पताल ले जाया गया है। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई और आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है।

29 में से 7 की मौत
मीडिया रिपोर्ट के अनुसार 29 लोगों की लिस्‍ट सामने आई है। जिसमें 6 लोगों की मौत हो चुकी है। पांच की हालत काफी नाजुक बनी र्हु हुई है। वहीं 7 लोगों को उपचार के बाद डिस्‍चार्ज कर दिया गया है। बाकी लोग अभी अस्‍पताल में इलाज कर रहे हैं। जिनका इलाज चल रहा है उनमें 5 को छोड़ सभी की हालत स्‍टेबल बताई जा रही है। मुंबई की मेयर मौके पर पहुंची और उन्‍होंने जांच के आदेश किए हैं कि आखिर आग कैसे लगी और इस दुर्घटना के कौन लोग जिम्‍मेदार हैं।

नेताओं के आए इस तरह के बयान
महाराष्‍ट्र के पूर्व मुख्‍यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडनवीस ने ट्वीट करते हुए की मुंबई के तारदेव में भीषण आग में अपने प्रियजनों को खोने वाले परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। मैं घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। उन्‍होंने आगे कहा कि आस-पास के अस्पतालों ने घायलों को भर्ती करने से इनकार कर दिया, यह जानकर स्तब्ध और पीड़ा हुई, जिसके परिणामस्वरूप अधिक मौतें हुईं। अगर यह बात  सच है तो बीएमसी और राज्य प्रशासन को इन मौतों की जिम्मेदारी तय करनी चाहिए और जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए।

उससे पहले प्रदेश सरकार में मंत्री आदित्‍य ठाकरे ने ट्वीट करके जानकारी दी थी कि वो तारदेव स्थित कमला भवन में आग लगने के संबंध में अधिकारियों के संपर्क में हैं। फायर बिग्रेड और पुलिस मौके पर है। रेस्क्यू और कूलिंग ऑपरेशन जारी है।