नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज लोकसभा और राज्यसभा में एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के काफिले पर 3 फरवरी को यूपी के जिला हापुड़ में पीएस पिलखुवा में हमले के संबंध में बयान देंगे। गृहमंत्री राज्यसभा में लगभग 11:30 बजे और लोकसभा में शाम 4:30 बजे बयान दे सकते हैं।

क्या है पूरा मामला ?

बता दें कि गुरुवार को AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी अपने चुनाव प्रचार अभियान के दौरे पर थे, उस दौरान उनके काफिले पर फायरिंग की गई। यह फायरिंग उस दौरान हुई जब ओवैसी प्रदेश के पश्चिमी हिस्से हापुड़ जिले के पिलखुआ से एक सभा को संबोधित करके नोएडा जा रहे थे। मीडिया के पास इस घटना की सीसीटीवी वीडियो और फुटेज उपलब्ध हैं जिसमें फायरिंग करने वाले हमलावरों को स्पष्ट तौर पर देखा जा सकता है।

फायरिंग की घटना के बाद असदुद्दीन ओवैसी ने मीडिया से बातचीत करते हुए सिलसिलेवार तरीके से पूरी घटना को बयान किया है। ओवैसी का कहना है कि, “यह एक सोची-समझी साजिश के तहत किया गया हमला है।” लेकिन यदि पूरे घटनाक्रम को देखें तो तस्वीर कुछ और ही बयां करती है। ओवैसी ने इस घटना को लेकर गुरुवार शाम 6 बजे ट्वीट किया था, “कुछ देर पहले छिजारसी टोल गेट पर मेरी गाड़ी पर गोलियां चलाई गयीं, 4 राउंड फ़ायर हुए, 3-4 लोग थे, सब के सब भाग गए और हथियार वहीं छोड़ गए।मेरी गाड़ी पंक्चर हो गई, लेकिन मैं दूसरी गाड़ी में बैठ कर वहां से निकल गया। हम सब महफ़ूज़ हैं‌। अलहमदुलिलाह”

ओवैसी ने इस घटना पर मीडिया से कहा, इस मामले को वो संसद में उठाएंगे साथ से ओवैसी ने अपने समर्थकों को उनके साथ हुई घटना के लिए जगह-जगह प्रदर्शन करने के लिए कहा। परिणाम स्वरूप हैदराबाद की चारमीनार में लोगों का भारी प्रदर्शन देखा गया। इस मामले को लेकर जमकर सियासत हो रही है सपा के मुखिया अखिलेश यादव ने इस घटना को लेकर बीजेपी को गहरा है उन्होंने कहा कि, “आप किसी की आवाज को नहीं दब सकते हैं।”