उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में सभी पार्टियों के नेता जनता के बीच आ जा रहे हैं और जनसंपर्क कर रहे हैं, इसी बीच गुरुवार की शाम को एक सभा से दिल्ली वापस लौटते वक्त AIMIM राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर कुछ अज्ञात लोगों ने फायरिंग की । इस मामले में पुलिस ने सचिन और शुभम नामक दो व्यक्तियों को गिरफ्तार भी कर लिया है, इनमें से एक आरोपी सचिन ने गाजियाबाद के MMH से पढ़ाई की है और उसके साथ ही उसने एलएलबी (LLB) भी किया है

आइए जानते हैं कि ओवैसी पर हमला करने वाले सचिन का किस राजनीतिक पार्टी से है संबंध…

ओवैसी पर हमला करने वाले सचिन के एक दोस्त ने यह बताया है कि सचिन किसी भी राजनीतिक पार्टी से नहीं जुड़ा है वह हिंदूवादी सचिन नाम से फेसबुक पर अकाउंट बनाए हैं सचिन के एक रिश्तेदार से बात करने पर उन्होंने बताया कि “हमें कुछ नहीं पता था सुबह परिवार से सचिन या कह कर गया था कि मैं नोएडा जा रहा हूं फिर रात को ही सीधा पता चल पाया बहुत अच्छा लड़का था अभी कुछ नहीं किया ना ही किसी भी राजनीतिक पार्टी से जुड़ा है पता नहीं उसने ऐसा कदम क्यों उठाया गांव में तो सभी पार्टियों के नेता आते जाते हैं वह किसी भी पार्टी से कभी जुड़ा नहीं है”

सचिन के एक अन्य दोस्त से बात करने पर उसने बताया कि सचिन किसी को राजनीतिक पार्टी से नहीं जुड़ा था, फेसबुक पर सचिन का हिंदू वाणी सचिन नाम से फेसबुक अकाउंट जरूर था घर से तो यही बता कर निकला था कि मैं नोएडा किसी काम से जा रहा है उसके जो साथी सौरभ हैं उसको तो हम लोगों ने कभी देखा भी नहीं, हां वह भगत सिंह को मानता था और जिस तरह ओवैसी ने योगी जी को कहा यह मोदी जी के लिए अभद्र भाषा का प्रयोग किया तो शायद उसे इस बात का बुरा लगा अभी हम कुछ कह नहीं सकते हमें बिल्कुल भी अंदाजा नहीं था कि वह ऐसा कोई कदम उठाएगा”

आइए अब आपको बताते हैं कि इस घटना पर असदुद्दीन ओवैसी का क्या कहना है..

असदुद्दीन ओवैसी ने उत्तर प्रदेश के मेरठ शहर में भारतीय जनता पार्टी समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी को आड़े हाथ लेते हुए यह दावा किया था कि “यह सभी दल चाहते हैं कि हम मुसलमान उनके लिए अपनी जवानी कुर्बान करते रहे” आपको बता दें ओवैसी मेरठ शहर विधानसभा क्षेत्र में घर-घर जनसंपर्क करने पहुंचे थे । मेरठ शहर के बाद ओवैसी ने किठौर विधानसभा क्षेत्र में जनसंपर्क किया और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने बीजेपी और सपा पर हमला करते हुए यह भी कहा, “इनमें एक नागनाथ है और दूसरा सांप नाथ है ऐसे में आप मदारी को बुलाएंगे और लोग मदारी आ गया” इसके साथ ही वह बीजेपी के अलावा सपा और बसपा पर भी जमकर बरसे ओवैसी ने आगे कहा, “सपा और बसपा भाजपा से कम नहीं, वह भी यही चाहते हैं कि ‘तुझ पर जवानी कुर्बान’ के नारे लगाते रहे और दरी बिछाते रहे “