चंडीगढ़: पंजाब कांग्रेस में सीएम का चेहरा कौन होगा, यह सवाल अब बूझता जा रहा है।पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर सिद्धू ने मीडिया को पंजाब कांग्रेस का सीएम चेहरे का जवाब देते हुए कहा कि, कोई फर्क नहीं पड़ता कि सीएम कौन होगा। केवल एक चीज जो मायने रखती है वह यह है कि जो भी सीएम होगा, वह मंत्रियों की बात माने, उनकी फाइलों पर हस्ताक्षर करें और उन्हें काम करने दें।

 

नवजोत कौर सिद्धू ने मीडिया से कहा कि,अगर कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने ऐसा ही किया होता तो किसी को भी सीएम से कभी कोई दिक्कत नहीं होती। लेकिन उन्हें काम करना चाहिए था और अन्य मंत्रियों का सम्मान करना चाहिए था।

सीएम फेस पर बोले सिद्धू

पंजाब कांग्रेस का सीएम फेस कौन होगा, इस पर पार्टी प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू ने कुछ दिन पहले स्पष्ट कहा कि सीएम के बारे में हाईकमान नहीं पंजाब के लोग तय करेंगे। हम पंजाब माडल लेकर आए हैं। इसी माडल के आधार पर लोग विधायकों को चुने जाएंगे। चंडीगढ़ प्रेस क्लब में मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए सिद्धू ने कहा था, अगले पांच वर्ष पंजाब माडल पर सरकार चलेगी। मेरा भविष्य भी पंजाब माडल पर टिका है। सिद्धू ने मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी का नाम लिए बगैर उन पर हमला भी किया था। उन्होंने कहा था, कि रेत के रेट कम हुए, केबल की कीमत कम हुई। कहां नहीं हुई! सिद्धू दो हफ्ते पहले भी अपनी सरकार पर हमला बोल चुके हैं। सिद्धू ने आरोप लगाया था, कि मौजूदा सिस्टम की वजह से ड्रग्स केस में बड़े आरोपियों पर कार्रवाई नहीं हो रही है। इसके साथ ही नवजोत सिंह सिद्धू ने दावा किया था कि ”या तो मौजूदा सिस्टम नहीं रहेगा या फिर सिद्धू नहीं रहेंगे”

बता दें कि पंजाब में 20 फरवरी को विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं ‌।