ओमिक्रोन और कोरोना वायरस के केस जैसे.जैसे बढ़ रहे हैं। इसके साथ ही इनके कई नए लक्षण भी सामने आते जा रहे हैं। अभी तक कोरोना के 20 नए लक्षण सामने आ चुके हैं। जिसमें यह आपके दिमाग, आंख और दिल पर असर कर रहा है। पर अब इस लिस्ट में एक और नया लक्षण शामिल हो गया है। इसमें कोरोना आपके कानों पर अटैक कर रहा है। ओमिक्रोन का ये नया लक्षण ज्यादातर वैक्सीन ले चुके लोगों में नज़र आ रहा है।

ओमिक्रोन के नए लक्षण
1.कानों में दर्द
2.कान में तेज सनसनाहट महसूस होना
3.कान में घंटी और सीटी जैसी बजना महसूस होता है।

हालांकि एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर समय पर इसका इलाज शुरु कर दिया जाए तो इस समस्या से निजात मिल सकती है। स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में कान की इस तरह की समस्या से प्रभावित लोगों की जांच की गई। जसमें पता चला कि कई मरीज जो कान में दर्द और सनसनाहट जैसे लक्षण महसूस कर रहे थे। वो कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। एक्सपर्ट्स का कहना है कि अगर आपको सुनने में परेशानी हो, कान में आवाज आए या चक्कर आने की समस्या हो तो इसे नजरंदाज ना ही करें तो बेहतर होगा। इस लक्षण को महसूस होने पर डॉक्टर से सलाह लें और तुरंत कोविड की जांच करवाएं।

बाॅडी के किसी भी पार्ट में कर रहा अटैक
कई रिसर्च में इस बात का जिक्र किया गया है कि जिन लोगों के आंत में ओमिक्रोन वायरस पहुंच रहा है ऐसे लोगों को पेट खराब होने के लक्षण महसूस हो रहे हैं। यानि ओमिक्रोन आपकी नाक और मुंह की बजाय आंत में भी छिपा हो सकता है। कई बार ऐसे लोगों की कोविड टेस्ट रिपोर्ट नेगिटिव आती है। इसकी वजह है क्योंकि वायरस आपके नाक या मुंह में नहीं रहता और आंतों में चला जाता है, जिससे रिपोर्ट नेगिटिव आती है। यानि कोरोना का नया वैरिएंट आपके बाॅडी के किसी भी भाग पर अटैक कर सकता है।

पिछले दस दिनों में दिल्ली में घटा कोरोना का स्तर
दिल्ली में रविवार को कोविड-19 के 9,197 नए मामले सामने आए तथा 34 और लोगों की महामारी से मौत हो गई। वहीं, संक्रमण दर घट कर 13.32 फीसद हो गई। स्वास्थ्य विभाग द्वारा दिए गए आंकड़ों से यह जानकारी मिली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शनिवार को 69,022 नमूनों की कोविड-19 जांच की गई। दिल्ली में कोविड के दैनिक मामले 13 जनवरी को 28,867 के उच्च स्तर पर पहुंचने के बाद से घट रहे हैं। मामलों के 10,000 से नीचे आने में 10 दिनों का वक्त लगा।

दिल्ली में शनिवार को कोविड से 45 और मरीजों की मौत हो गई थी। जो पांच जून 2021 के बाद से सर्वाधिक संख्या है। शनिवार को कोविड के 11,486 मामले सामने आए थे और संक्रमण दर 16.36 फीसद रही थी। शुक्रवार को 10,756 मामले सामने आए थे। जबकि संक्रमण दर 18.04 फीसद दर्ज की थी और महामारी से 38 मरीजों की मौत हो गई थी। शुक्रवार को 10,756 मामले सामने आए थे। जबकि संक्रमण दर 18.04 फीसद दर्ज की गई थी और महामारी से 38 मरीजों की मौत हो गई थी। दिल्ली में जनवरी में कोविड से करीब 513 मरीजों की मौत हुई हैं।

हालांकि, स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और अधिकारियों ने कहा कि ज्यादातर मरीजों को कैंसर, लीवर या किडनी की बीमारियां थी और इस बार मौतों के लिए प्राथमिक कारण कोविड नहीं है। बुलेटिन में कहा गया कि अस्पतालों में कोविड के मरीजों की संख्या 19 जनवरी को 2,624 से घट कर 2,342 रह गई। अभीए 164 मरीज वेंटिलेटर पर हैं। इसमें कहा गया है कि दिल्ली में कोविड के 54,246 उपचाराधीन मरीज हैं।