पीएम नरेंद्र मोदी ने आज पंडित जसराज कल्चरल फाउंडेशन को लॉन्च किया, इस मौके पर पंडित जसराज की बेटी दुर्गा जसराज ने बताई इसकी खासियत। संगीत के क्षेत्र से जुड़े विभिन्न लोगों की सहायता से इस फाउंडेशन की शुरुआत करने को प्रधानमंत्री ने एक सराहनीय कदम बताया। उन्होंने फाउंडेशन की कर्ताधर्ता पंडित जसराज़ की बेटी दुर्गा जसराज को बविश्वविख्यात शास्त्रीय गायक पंडित जसराज की  92वी जयंती के मौके पर मोदी ने आज वर्चुअली “पंडित जसराज कल्चरल फाउंडेशन” को लॉन्च किया। धाई भी दी। फाउंडेशन के वर्चुअल लॉन्च के बाद मीडिया से बात करते हुए दुर्गा जसराज ने कहा “संगीत से जुड़े तमाम लोगों की मदद और जरूरतमंदों को रोजगार दिलाने से संबंधित फाउंडेशन खोलने का सपना उनके दिवंगत पिता पण्डित जसराज ने देखा था ऐसे में उनके जन्मदिन के मौके पर उन्हीं के नाम से फाउंडेशन की शुरुआत करना मेरे लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं है”।

दुर्गा जसराज ने बताया कि फाउंडेशन के लॉन्च के साथ ही  www.panditjasraj.cforg नाम से एक वेबसाइट को भी लॉन्च किया गया है। इस वेबसाइट के माध्यम से संगीत की सभी विधाओं और अगली पीढ़ी की प्रतिभा को प्रोमोट किया जाएगा इसके जरिए ही उनके लिए अवसर पैदा करने का प्रयास किया जाएगा। कंसर्ट सर्किट तक नहीं पहुंचने वाले तमाम गुणी गायकों और गुरुओं की एक सूची भी वेबसाइट पर उपलब्ध होगी जिससे कोई भी उनका चयन कर उनसे संगीत कि तालीम हासिल कर सकेगा। दुर्गा जसराज ने कहा कि सीधे तौर पर लोगों की आर्थिक मदद किए जाने की बजाय फाउंडेशन लोगों को रोजगार मुहैया कराकर उन्हें सक्षम बनाने पर ज़ोर देगी उन्होंने कहा कि गायकों से लेकर वाद्य यन्त्र बनाने वाले लोगों के लिए आय के स्रोत ढूंढने की कोशिशों में ये फाउंडेशन काफी मददगार साबित होगी। पद्म विभूषण से सम्मानित दुर्गा जसराज ने प्रधानमंत्री द्वारा फाउंडेशन को लाँच किए जाने पर उनका शुक्रिया अदा किया। यही नहीं भजन सम्राट अनूप जलोटा भी पंडित जसराज कल्चरल फाउंडेशन से एक मार्गदर्शक के रूप में जुड़े हैं। अनूप जलोटा ने मीडिया से कहा “इस फाउंडेशन के तहत जो भी काम किया जाना था उसकी नींव खुद पंडित जसराज ने रखी थी”।