चंडीगढ़: सूबे में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं, हर पार्टी चुनाव प्रचार में व्यस्त है। ख़बर है कि पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी आगामी विधानसभा चुनाव में 2 सीटों से चुनाव लड़ेंगे। कांग्रेस द्वारा घोषित आठ उम्मीदवारों की तीसरी सूची के अनुसार, चन्नी भदौर निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ेंगे।सुरक्षित सीट के लिए,  दो निर्वाचन क्षेत्रों से मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को मैदान में उतारने का फैसला किया है। उन्होंने पहले चमकौर साहिब सीट से अपनी उम्मीदवारी की घोषणा की थी।

 

कांग्रेस पार्टी ने जिन 8 उम्मीदवारों की सूची जारी की है उसमें तारसेम सिंह सियालका को अटारी उम्मीदवार बनाया है। वहीं, सुखपाल सिंह भुल्लर को खेम करण से प्रत्याशी घोषित किया, सतबीर सिंह सैनी को नवान शहर से प्रत्याशी घोषित किया गया, इश्वरजोत सिंह चीमा को लुधियान साउथ से, मोहन सिंह को जलालाबाद, चरणजीत सिंह चन्नी को भदौर, मनीष बंसल को बरनाला और विष्णु शर्मा को पटिलाया से उम्मीदवार बनाया गया है। बता दें कि भदौर बरनाल जिले की सीट है। चन्नी को इस सीट पर आम आदमी पार्टी से कड़ी टक्कर मिलने की संभावना है।

कांग्रेस पंजाब में सत्ता बनाए रखने की कोशिश कर रही है, जहां वह आप, शिअद-बसपा और भाजपा के खिलाफ है, जो पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह की पंजाब लोक कांग्रेस और सुखदेव सिंह ढींडसा की शिरोमणि अकाली दल संयुक्त के साथ गठबंधन में है।

2022 के चुनावों में, AAP ने फिर से डॉक्टर चरणजीत सिंह को चमकौर साहिब से मैदान में उतारा है जबकि भाजपा के उम्मीदवार दर्शन सिंह शिवजोत हैं। शुक्रवार को आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने दावा किया था कि चमकौर साहिब से चन्नी की हार होगी, उन्होंने जोर देकर कहा था कि चन्नी के भतीजे के घर से करोड़ों रुपये जब्त किए जाने से लोग हैरान हैं।

बता दें कि 117 सदस्यीय पंजाब विधानसभा के लिए 20 फरवरी को मतदान होगा और मतों की गिनती 10 मार्च को होगी।चमकौर साहिब चन्नी का घरेलू मैदान है जिसका वह एक दशक से अधिक समय से प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, जबकि भदौर संगरूर लोकसभा क्षेत्र में आता है। आप के सीएम चेहरे भगवंत मान संगरूर जिले के धूरी से चुनाव लड़ रहे हैं। भदौर, एक आरक्षित सीट, आप का गढ़ है और कांग्रेस के लिए एक अज्ञात इलाका है, जिसे 2017 में पिछले विधानसभा चुनावों में केवल 20% वोट मिले थे।