रीट 2021 परीक्षा के दौरान लेवल टू के पेपर लीक होने के बाद ये परीक्षा रद्द कर दी गई है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लेवल टू की परीक्षा को फिर से कराए जाने की घोषणा की है। यही नहीं मुख्यमंत्री ने रीट पीके के लेवल वन और लेवल टू के माध्यम से भर्ती किए जाने वाली कुल रिक्तियों की संख्या बढ़ाकर 62 हजार कर दी है। पहले 32,000 भर्तियां की जाने वाली थी लेकिन अब रिक्तियों की संख्या 30,000 बढ़ा दी गई है।

गेल ए वन की भर्ती की प्रक्रिया पहले की तरह ही निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार होगी। लेकिन लेवल टू के लिए उम्मीदवारों को रीट परीक्षा 2022 लेवल टू देने के बाद किया जाएगा।

आपको बता दें कि राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने राज्य से राशि की वित्तीय सहायता प्राप्त विद्यालयों में कक्षा एक से पांच तक की कक्षाओं के अध्यापक के उम्मीदवारों की योग्यता निर्धारित करने के लिए राजस्थान अध्यापक पात्रता परीक्षण के लेवल एक का आयोजन किया जाता है। वहीं छठी से आठवीं तक की कक्षाओं में अध्यापन के लिए लेवल टू परीक्षा का आयोजन किया जाता है। लेवल टू की परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद ये परीक्षा रद्द कर दी गई है।

कब होगी एक लेवल टू की परीक्षा

रीट के लेवल वन और लेवल टू परीक्षा का आयोजन 26 सितंबर 2021 को किया गया था। वही लेवल वन के लिए 16,00,000 उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन किया था और लेवल टू के लिए 12,00,000 से अधिक उम्मीदवारों ने रजिस्ट्रेशन किया था हालांकि लेवल टू के पेपर लीक के बात सामने आने के बाद उम्मीदवार परीक्षा फिर से कराए जाने की मांग कर रहे थे। अब यह परीक्षा दोबारा कराए जाने की बात सामने आ रही है। रिपोर्ट के अनुसार जुलाई 2022 में इस परीक्षा का आयोजन किया जाएगा।