नई दिल्‍ली। मध्य मुंबई के तारदेव इलाके में एक आवासीय इमारत की 19वीं मंजिल पर शनिवार सुबह भीषण आग लगने से कम से कम छह लोगों की मौत हो गई और 23 अन्य घायल हो गए। बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) के एक अधिकारी के अनुसार, गोवालिया टैंक में भाटिया अस्पताल के सामने स्थित सचिनम हाइट्स इमारत में सुबह करीब सात बजे आग लगी, जब इसके कई निवासी सो रहे थे। अध‍िकारी के अनुसार यह एक ग्राउंड प्लस 20 मंजिला इमारत है। आग इसकी 19वीं मंजिल पर लगी। सूचना मिलते ही दमकल कर्मी और पुलिस मौके पर पहुंच गई। कई लोगों को बचाया गया, उनमें से 29 को पास के विभिन्न अस्पतालों में ले जाया गया क्योंकि उनमें से कुछ घायल हो गए थे, जबकि अन्य ने दम घुटने जैसी स्वास्थ्य समस्याओं की शिकायत की थी।

जानिए घटना के अहम अपडेट्स
– प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को आग की घटना में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) से 2-2 लाख रुपए की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की। पीएम ने कहा, घायलों को 50,000 रुपए की सहायता दी जाएगी।

– पीएम ने मतृकों पर‍िजनों पर शोक व्यक्त किया और कहा कि मुंबई के तारदेव में इमारत में आग लगने से दुखी हूं। शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।

– महाराष्ट्र सरकार ने इस घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को 5 लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की है।

– सरकार ने भी आग की जांच का आश्वासन दिया है और कहा है कि राज्य के मंत्री आदित्य ठाकरे और असलम शेख इसकी जांच करेंगे।

– इससे पहले दिन में, आदित्य ठाकरे ने कमला बिल्डिंग फायर साइट का दौरा किया। उन्होंने ट्वीट किया कि मैंने तारदेव में कमला बिल्डिंग फायर साइट का दौरा किया और रिकवरी ऑपरेशन के बारे में जमीनी अपडेट प्राप्त किया। निवासियों से भी बात की और उन्हें इस दुखद घड़ी में पूरी सहायता का आश्वासन दिया।

– महाराष्ट्र विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि आग की घटना के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

– जिस इमारत में आग लगी उसके कुछ निवासियों ने आरोप लगाया कि पास के तीन निजी अस्पतालों ने घायल व्यक्तियों को भर्ती करने से इनकार कर दिया और जमा राशि और उनके नकारात्मक कोविड -19 प्रमाण पत्र की मांग की।