उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव ( Uttar Pradesh Legislative Council ) को लेकर जारी सियासी हलचल के बीच शुक्रवार को विधान परिषद के इलेक्शन की भी घोषणा कर दी गई है. यह घोषणा स्थानीय प्राधिकारी क्षेत्र के 36 सदस्यों के चुनाव के लिए की गई है. चुनाव कार्यक्रम के अनुसार मतदान दो चरणों में संपन्न कराया जाएगा. चुनाव की अधिसूचना 4 फरवरी को जारी होगी. जानकारी के अनुसार प्रथम चरण में 29 क्षेत्रों की 30 सीटों के लिए मतदान होगा. जबकि 3 मार्च को मतदान कराया जाना है. वहीं, दूसरे चरण की अगर बात करें तो 6 सीटों के लिए अधिसूचना 10 फरवरी को जारी होगी. दूसरे चरण के लिए 7 मार्च को मतदान संपन्न कराया जाएगा. इसके साथ ही 12 मार्च को होने वाली मतगणना के साथ ही परिणामों की भी घोषणा कर दी जाएगी.

 राहत: 16 राज्यों में कोरोना केसों में कमी, यूपी और पंजाब में भी गिरावट

3 मार्च को सुबह 8 बजे से शाम 4 बजे तक वोटिंग

मुख्य निर्वाचन अधिकारी अजय कुमार शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रथम चरण के लिए 4 फरवरी से 11 फरवरी के बीच नामांकन किया जा सकेगा. जबकि 14 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी और 16 फरवरी को नाम वापसी की प्रक्रिया की जा सकेगी. मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि 3 मार्च को सुबह 8 बजे से शाम 4 बजे तक वोटिंग होगी. इसी तरह से 10 फरवरी को दूसरे चरण की अधिसूचना जारी की जाएगी. दूसरे चरण के लिए 17 फरवरी तक नामांकन होंगे और 18 फरवरी को नामांकन पत्रों की जांच होगी. इसके बाद 21 को नाम वापस हो सकेंगे.

 देश में सबसे अमीर राजनीतिक दल भाजपा, 4847 करोड़ की संपत्ति घोषित

दोनों चरणों की काउंटिंग एक साथ 12 मार्च को होगी

दूसरे चरण के लिए 7 मार्च को वोटिंग होगी. मतगणना की अगर बात करें तो दोनों चरणों की काउंटिंग एक साथ 12 मार्च को होगी. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के लिए चुनावी बिगुल फुक चुका है, जिसको लेकर राजनीतिक दलों ने चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंक दी है. राजनीतिक दल चुनावी बाजी जीतने के लिए कोई कसर शेष नहीं छोड़ना चाहते. वहीं, पार्टियों की ओर से अपने—अपने उम्मीदवारों की घोषणा भी की जा रही है.