छह साल की उम्र में बच्चा ठीक से बात भी नहीं कर पाता वहीं, इस नन्हें फरिश्ते ने अपनी आवाज से सभी का दिल जीत लिया है। इस नन्हें से बच्चे की मिश्री सी आवाज में गाए हुए गाने को अगर आप सुन लेते हैं तो आपके चेहरे पर एक बार जरूर मुस्कान आ जाएगी। यही कारण है कि छोटू खान इन दिनों राजस्थान के दिलों में तो घर कर ही गया था अब वह और सभी शहरवासियों के दिलों में अपनी जगह बना रहा है। आपको बतादें कि छोटी सी उम्र में छोटू खान के कमाल का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि एक कार्यक्रम के 70 से 80 हजार रुपए फीस चार्ज करते हैं। आइए जाने छोटू की इस खासियत के बारे में।

राजस्थान के जैसलमेर का है छोटू खान
छोटू खान मूलरूप से राजस्थान के जैसलमेर जिले के फतेहगढ़ उपखंड के गांव झिनझियाली का रहने वाला है। छोटू में गायकी का खून उसकी रगों में दौड़ रहा है। कई पीढ़ियां गाने गा रही है। चाचा दिलावर खान से उसने भी गायकी की बारीकियां सीखी है। छोटू खान के नाना कला खान भी नामी कलाकार रहे हैं।

दूसरी कक्षा में पढ़ता है छोटू खान
बाल कलाकार छोटू खान बीते छह माह से प्रोफेशनली गाने लगा है। छोटू ने बाड़मेर व जैसलमेर में कई कार्यक्रम भी किए हैं। फिलहाल वह दूसरी कक्षा में पढ़ रहा है।

सिर पर साफा और आवाज में मासूमियत
छोटू खान सिर पर राजस्थानी साफा और मंगणीयार कलाकारों की वेशभूषा पहनकर जिस लय में गाना गाता है वो अंदाज हर किसी के दिल को छू जाता है। साथ ही आवाज में मासूमियत भी लोगों का दिल जीत रही है।