उत्तर प्रदेश और पंजाब समेत पांच राज्यों में हो रहे विधानसभा चुनाव के चलते इस समय देश का सियासी पारा चढ़ा हुआ है. हालांकि राजनीतिक दलों का पूरा फोकस सियासी लिहाज से सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश पर है. यहां विधानसभा की 403 सीटों के लिए चुनाव हो रहा है. उत्तर प्रदेश में अभी तक दो चरणों का चुनाव संपन्न हो चुका है, जबकि तीसरे चरण के लिए कल यानी 20 फरवरी को मतदान होना है. ऐसे में राजनीतिक दलों के सामने अपने-अपने किलों को बचाने की चुनौती है. भारतीय जनता पार्टी के सामने जहां सत्ता वापसी का रास्ता तैयार करने चैलेंज है, वहीं समाजवादी पार्टी को अपना खोया हुआ जनाधार वापस लाना है. चुनाव के इस तीसरे चरण में भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के बड़े-बड़े चेहरों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई है.

 सपा के कद्दावर नेता अहमद हसन का निधन, CM योगी ने जताया दु:ख

इन जिलों में होना है मतदान

तीसरे चरण के 16 जिलों हाथरस, फिरोजाबाद, एटा, कासगंज, मैनपुरी, फरुर्खाबाद, कन्नौज, इटावा, औरैया, कानपुर देहात, कानपुर नगर, जालौन, झांसी, ललितपुर, हमीरपुर व महोबा की 59 विधानसभा सीटों पर वोटिंग 20 फरवरी को होगी

……………………

  • भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह की कर्मभूमि भी उरई है
  • असीम अरूण भी कन्नौज से चुनाव मैदान में है
  • साध्वी निरंजन ज्योति के कंधों पर केवट, मल्लाह, कश्यप को साधने की जिम्मेंदारी
  • सुब्रत पाठक मैनपुरी, कन्नौज, इटावा के ब्राम्हण को एक मंच पर लाने की जिम्मेदारी
    …………
  • 2017 में भाजपा के पास 59 में से 49 सीटें थीं
  • सपा के पास 8 और बसपा कांग्रेस को एक-एक सीट थी

 सीएम योगी :- अगले साल के अंत तक राम लला की मूर्ति , राम मंदिर में होगी स्थापित।

इन इन नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर —

  • तीसरे चरण में अखिलेश के चाचा शिवपाल की प्रतिष्ठा दांव पर
  • अखिलेश के सामने चुनाव लड़ रहे केन्द्रीय मंत्री डा.एसपी बघेल
  • फरूर्खाबाद से कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद की पत्नी लुईस भी चुनाव लड़ रहीं
  • कानपुर की महराजपुर सीट से सतीश महाना चुनावी मैदान में
  • कानपुर के पुलिस कमिश्नर रहे असीम अरूण कन्नौज से ठोंक रहे ताल