राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत समूचे उत्तर भारत में कड़ाके की सर्दी पड़ने का सिलसिला शुरू हो गया है. हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर और उत्तराखंड समेत देश के पहाड़ी राज्यों में हो रही बर्फबारी की वजह से मैदानी इलाकों में गलन बढ़ी है. कड़कड़ाती सर्दी की वजह से लोग अपने घरों में कैद होने को मजबूर हैं. सुबह और शाम को वॉक पर निकलने वाले लोगों की संख्या में भी भारी कमी देखी गई है. इस साल मकर संक्रांति के बाद से उत्‍तर भारत (North India) के ज्यादातर इलाके ठंड (Cold Day) और कोहरे (Fog) की चपेट में हैं.

 भारत में 23 जनवरी को चरम पर होगा कोरोना का संक्रमण! आएंगे 7 लाख से ज्यादा केस

वहीं, पहाड़ी इलाकों में स्नोफॉल के कारण मैदानी राज्यों में चल रही बर्फीली हवाओं ने तापमान में बेहद गिरावट ला दी है. इस बीच मौसम विभाग (IMD) की ओर से बताया गया है कि (Weather Update) लगाया है कि आने वाले दो दिनों में लगभग पूरा उत्‍तर भारत घने कोहरे और ठंड की चपेट में रहेंगे. जिससे लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है. मौमस विभाग के मुताबिक राजस्‍थान, मध्‍य प्रदेश, पूर्वी उत्‍तर प्रदेश, बिहार, ओडिशा और पश्चिम बंगाल के ज्यादातर ​इलाके सुबह और शाम के समय घने कोहरे की चपेट में रह सकते हैं.

World Economic Forum 2022: आज भारत दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा दवाई निर्माता है, देवास समिट में बोले पीएम

इन राज्यों में कोहरे की वजह से दृश्‍यता लगभग जीरो के आसपास रहेगी. जिसका असर रेलवे व हवाई यात्रा के साथ सड़क परिवहन पर भी पड़ सकता है. आईएमडी के एक पूर्वानुमान के अनुसार आज यानी मंगलवार को सुबह हल्के कोहरे की शुरुआत के साथ अधिकतम तापमान 18 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया जा सकता है.