इंसान के जीवन में अगर प्यार ना हो तो उसे किसी भी चीज से लगाव, मोह माया जैसे शब्दों का मूल्य भी नहीं हो दुनिया का हर एक बंधन प्यार से बना होता है अगर प्यार नहीं है जिंदगी में तो जिंदगी में खुशियां भी नहीं हो सकती हैं वैसे प्यार का इजहार कभी किसी मुहूर्त को देखकर नहीं किया जाता है प्यार तो बिन बोले भी बयां हो जाता है प्यार का एहसास एक ऐसा समुंदर है जिसमें अगर तूफान भी आ जाए तो किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचाता प्यार की परिभाषा त्याग और विश्वास की एक ऐसी डोर है जिसे हम महसूस कर सकते हैं जिसे शब्दों में पिरोना आसान नहीं है लेकिन आईए आज टूटी-फूटी पंक्तियों में इसे बयां करते हैं।

https://newz24india.com/the-whole-country-is-paying-tribute-to-lata-mangeshkar-read-further/https://newz24india.com/the-whole-country-is-paying-tribute-to-lata-mangeshkar-read-further/

हर एक अवसर को मनाने के लिए कोई ना कोई त्यौहार बना हुआ है जिसमें हम उस अवसर को मना कर अपने मन को हर्षोलासित करते हैं।

ऐसे ही प्यार के त्यौहार को मनाने के लिए वैलेंटाइन डे होता है जिसमें हम प्यार को वैलेंटाइन डे के रूप में मनाते हैं और तभी यह दिन एक यादगार दिन बन जाता है जीवन में सब कुछ प्यार तो नहीं है लेकिन इसका जीवन में मोल बाकी चीजों से काफी अधिक है। जब इस शब्द का मोल इतना अधिक है तो इसे वक्त देना भी उतना ही जरूरी भी है। और आज अगर बात करे वक्त की तो वक्त की हर व्यक्ति के जीवन में कमी सी होती जा रही है इस भाग दौड़ की दुनिया वक्त कही खो सा गया है एक ऐसा पंछी बन गया है जो उड़ता ही जा रहा है रुकने का नाम ही नही ले रहा है तो इससे पहले कि ये पंछी उड़ जाए और आप अपने प्यार का इजहार ही न कर पाए।

https://newz24india.com/such-was-the-relationship-between-lata-ji-and-prime-minister-narendra-modi-the-voice-of-india/https://newz24india.com/such-was-the-relationship-between-lata-ji-and-prime-minister-narendra-modi-the-voice-of-india/

आप अपने प्यार का इजहार करदे। जिंदगी के वक्त के कुछ पलों को सुंदर यादों के रूप में कैद करले।

जैसे वैलेंटाइन डे एक अनोखा त्यौहार है वैसे ही इस त्यौहार को मनाने का तरीका भी अनोखा ही है। इस दिन सब अपने प्यार के लिए वक्त निकालते हैं और अपने प्यार का इजहार करते हैं कीमती वक्त में से जीवन के सबसे कीमती उपहार जो आपको ऊपर वाले ने दिया है उसको मनाते हैं सब इस दिन के लिए अच्छे-अच्छे प्लान बनाते हैं आपको बता दें वैलेंटाइन डे केवल 1 दिन नहीं बल्कि पूरे हफ्ते मनाया जाता है।

https://newz24india.com/big-breaking-punjab-congress-rahul-gandhi-stamps-channi-on-cm-face-in-punjab/https://newz24india.com/big-breaking-punjab-congress-rahul-gandhi-stamps-channi-on-cm-face-in-punjab/

आइए हम आपको बताएं इस त्यौहार की क्या है कहानी

वेलेंटाइन किसी दिन का नाम नहीं है यह नाम एक पादरी का है जो कि रोम में रहता था उस समय रोम पर claudius का शासन था और cladius की इच्छा थी कि वह एक शक्तिशाली शासक बने जिसके लिए उसने एक बहुत बड़ी सेना बनाने का प्लान बनाया था लेकिन उसने देखा कि रोम कि वे लोग जिनका परिवार है अर्थात जिनके बीवी और बच्चे हैं वह सेना में शामिल नहीं होना चाहते तब उस शासक ने एक नियम बनाया। नियम यह था की उस समय जितनी भी शादियां होनी थी उसने उन सभी शादियों पर प्रतिबंध लगा दिया यह बात किसी को भी वहां पर अच्छी नहीं लगी पर उस शासक के सामने किसी की भी इतनी हिम्मत नहीं थी कि कोई कुछ कर पाता जब यह बात पादरी वैलेंटाइन को मालूम पड़ी तो उन्हें यह बात ठीक नही लगी। लेकिन जब पादरी के पास में एक जोड़ा अपनी शादी करवाने के लिए आया तो वैलेंटाइन ने उनकी शादी चुपचाप एक बंद कमरे में करवा दी लेकिन उस शासक को यह बात मालूम पड़ गई और उसने वैलेंटाइन को कैद कर लिया और उसे मौत की सजा सुना दी गई जब पादरी वैलेंटाइन जेल में बंद था तब कई लोग उससे मिलने आते थे उसे गुलाब और गिफ्ट  देते थे  सभी उससे बताना चाहते थे कि वह उससे कितना प्यार करते  और कितना उस पर विश्वास करते हैं जिस दिन वैलेंटाइन को मौत की सजा सुनाई गई थी वह दिन 14 फरवरी 269 A.D का था।

आडवाणी ने लता जी को दी श्रद्धांजलि, बोले- रथ यात्रा के लिए गाया था सिग्नेचर ट्यून’

पादरी वैलेंटाइन प्यार करने वालों के लिए खुशी खुशी कुर्बान हो गया और प्यार को जिंदा रखने के लिए उस शासक से गुहार करता रहा।

पादरी वैलेंटाइन की याद में ही आज पूरे देश पूरी दुनिया में वैलेंटाइन डे मनाया जाता है।