दिल्ली

सरकारी स्कूल के एक छात्र ने जेईई मेन्स में परफेक्ट स्कोर हासिल किया और सीएम केजरीवाल ने उसका दौरा किया।

सरकारी स्कूल के एक छात्र ने जेईई मेन्स में परफेक्ट स्कोर हासिल किया और सीएम केजरीवाल ने उसका दौरा किया।

आस्तिक नारायण अपने परिवार के साथ सोमवार को अरविंद केजरीवाल के आवास पर गए, जहां उन्होंने शिक्षा मंत्री आतिशी, शिक्षा निदेशक हिमांशु गुप्ता, आस्तिक नारायण के स्कूल के प्रिंसिपल और भौतिकी के शिक्षकों से मुलाकात की।

दिल्ली के एक सरकारी स्कूल के अस्तिक नारायण नाम के एक छात्र ने जेईई मेन्स में परफेक्ट स्कोर हासिल किया है। नतीजतन, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनसे मुलाकात की और उन्हें बीइंग बाबासाहेब अंबेडकर नामक पुस्तक भेंट की। आस्तिक नारायण पूर्वी दिल्ली के राधेश्याम पार्क में सर्वोदय बाल विद्यालय में पढ़ते हैं।

केजरीवाल ने एक छात्र की सफलता पर गर्व व्यक्त किया और उसे बधाई देते हुए कहा कि छात्र की उपलब्धि ने उसके माता-पिता और दिल्ली सरकार दोनों को गौरवान्वित किया है। केजरीवाल ने भी छात्र को उसके भविष्य के प्रयासों के लिए शुभकामना दी और कहा कि छात्र का उद्देश्य एक अधिकारी के रूप में देश की सेवा करना है, जो बाबासाहेब और सरदार भगत सिंह के सपनों के अनुरूप है। मुख्यमंत्री ने छात्र के समर्पण और सफलता की सराहना की।

कृपया सारांशित करने के लिए सामग्री प्रदान करें। एक बार प्रदान करने के बाद, मैं सामग्री को सारांशित करने में सहायता कर सकता हूं।

आस्तिक नारायण और उनके परिवार ने सोमवार को अरविंद केजरीवाल के घर का दौरा किया, जहां वे शिक्षा मंत्री आतिशी, शिक्षा निदेशक हिमांशु गुप्ता और आस्तिक के स्कूल के प्रिंसिपल और भौतिकी के शिक्षकों से मिले।

क्या आप इस पाठ को अपने शब्दों में रख सकते हैं?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने हर बच्चे को अच्छी तरह से पढ़ाने के लिए सरकारी स्कूलों में शिक्षकों के समर्पण के लिए उनकी प्रशंसा की। आस्तिक नारायण नाम के एक छात्र के साथ बातचीत के दौरान, केजरीवाल ने जेईई मेन्स के लिए अपनी तैयारी और आईआईटी में कंप्यूटर साइंस का अध्ययन करने की अपनी भविष्य की योजनाओं के बारे में जाना।

कृपया वह मूल पाठ प्रदान करें जिसे सारांशित करने या व्याख्या करने की आवश्यकता है।

बैठक के दौरान, आस्तिक के माता-पिता ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनके बेटे को अपने शिक्षकों और प्रिंसिपल से समर्थन मिला है, और उसकी शैक्षणिक उपलब्धियों और तैयारियों के बारे में विवरण साझा किया। आस्तिक एक असाधारण छात्र के रूप में जाने जाते थे, जिनकी 10वीं कक्षा से ही विभिन्न विषयों पर अच्छी पकड़ थी। उनके माता-पिता ने जोर देकर कहा कि वह हमेशा अपनी पढ़ाई पर ध्यान देते थे।

Related Articles

Back to top button
Share This
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज