राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली व उत्तर प्रदेश समेत समूचा उत्तर भारत इस समय कड़ाके की ठंड की जद में है. सुबह के समय घना कोहरा छाए रहने के कारण विजिबिलिटी लगभग शून्य के समान रहती है, जिसकी वह से यातायात बुरी तरह प्रभावित हो रहा है. इस क्रम में सोमवार को दिल्ली पहुंचने वाली 13 ट्रेनें अपने निर्धारित समय से लेट रहीं तो 500 ट्रेनों को कैंसिल कर दिया गया. देश के कई इलाकों में घना कोहरा छाए रहने के कारण ट्रेनें अपने समय से काफी लेट हो रही हैं. मौसम विभाग की मानें तो कई इलाकों में तो विजिबिलिटी घटकर केवल 50 मीटर तक रह गई है.

दरअसल, उत्तर भारत के कई राज्यों में पिछले दो दिनों से बारिश हो रही है, जिसकी वजह से तापमान में काफी गिरावट आई है. मौसम में आए इस बदलाव का प्रभाव ट्रेनों के आवागमन पर भी पड़ रहा है. सोमवार को ट्रेनों में हो रही देरी का यही आलम रहा. राजधानी दिल्ली पहुंचने वाली 13 ट्रेनें देरी से चल रही हैं। दिल्ली पहुँचने वाली 22 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया. यही वजह है कि उत्तर रेलवे ने बड़ा कदम उठाते हुए कई ट्रेनों को रद्द ​कर दिया है.

  • हावड़ा-नई दिल्ली एक्सप्रेस
  • पुरी-नई दिल्ली एक्सप्रेस
  • गोरखपुर-नई दिल्ली एक्सप्रेस
  • मुंबई-नई दिल्ली एक्सप्रेस
  • कानपुर-नई दिल्ली एक्सप्रेस
  • भाहलपुर-आनंद विहार एक्सप्रेस
  • अम्बेडकरनगर-निजामुद्दीन एक्सप्रेस
  • मुंबई-नई दिल्ली दादर एक्सप्रेस
  • विशाखापट्टनम- निजामुद्दीन एक्सप्रेस
  • भाहलपुर-आनंद विहार एक्सप्रेस
  • अमृतसर-बिलासपुर एक्सप्रेस
  • प्रयागराज-नई दिल्ली एक्सप्रेस
  • मुज्जफरपुर-आंनद विहार एक्सप्रेस
  • गाजीपुर-आंनद विहार एक्सप्रेस दो घण्टे की देरी से चल रही हैं.