UP Assembly Election: भारतीय किसान यूनियन(BKU) के अध्यक्ष राकेश टिकैत ने यूपी विधानसभा चुनाव से पहले सरकार पर हमला बोला है। उनका यह बयान अखिलेश के मोहम्मद अली जिन्ना और पाकिस्तान वाले बयान पर छिड़ी राजनीतिक विवाद के बाद आया है।

अलीगढ़ के इगलास क्षेत्र में एक विवाह समारोह में शामिल होने आए राकेश टिकैत ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि,  हिंदू-मुस्लिम और जिन्ना का जो भूत है वो अभी ढाई महीने उत्तर प्रदेश में रहेगा। वो ढाई महीने के कांट्रेक्ट पर यहां पर आया है। 15 मार्च तक यह भूत यहीं प्रवचन देगा, उनसे जनता को बचना है। यहां जाति और धर्म के नाम पर वोट मांगे जाते हैं। जब तक देश जाति, धर्म और हिंदू-मुस्लिम में बंटता रहेगा, देश विकास नहीं कर सकता।

उन्होंने आगे कहा कि देश में अभी हिंदू-मुस्लिम और जिन्ना ढाई महीने के प्रवास पर उत्तर प्रदेश के सरकारी मेहमान हैं। 15 मार्च तक यहां पर रहेंगे। सरकार स्टेज से प्रवचन देगी, इनके प्रवचन में हमें नहीं आना। हमें क्या पता किसकी सरकार बनेगी। लेकिन जनता इनको वोट नहीं देगी।

टिकैत ने कहा, यहां का जो किसान है वह आलू से त्रस्त है जो प्रवचन सरकार के चल रहे हैं उनसे बचना है। हमें गठबंधन के बारे में नहीं पता किसका गठबंधन है।

संबित पात्रा ने अखिलेश पर बोला हमला

वहीं अखिलेश यादव को एक इंटरव्यू में असली दुश्मन पाकिस्तान नहीं चीन को बताने पर सबित पात्रा ने निशाना बनाते हुए, ये वही अखिलेश हैं जिन्होंने आतंकवादियों के लिए कोर्ट तक में गुहार लगाया था, उनको छुड़वाने की सभी प्रक्रिया पूरी की थी। शुक्र है कि न्याय प्रक्रिया ने उस पर रोक लगाई। आगे संबित पात्रा ने कहा, अखिलेश हार की हताशा में अखिलेश जी आज ओपीनियन पोल पर बरस रहे है।मैं दावे से कह सकता हूं कि 10 मार्च को अखिलेश जी अपनी हार का दोषारोपण EVM पर करेंगे।

पात्रा ने कहा, समाजवादी पार्टी जिस प्रकार गुंडों माफियाओं तथा अपराधियों को टिकट दे रही है उस हिसाब से तो अच्छा है की आज कसाब और याक़ूब मेमन को फांसी हो गई है वर्ना अखिलेश जी का बस चलता तो याकूब मेमन को भी नाहिद हसन के साथ चुनावी मैदान में उतार देते! जिसे जिन्ना से हो प्यार,वो पाकिस्तान से कैसे करे इनकार!अखिलेश जी ने एक साक्षात्कार में कहा कि पाकिस्तान हिन्दुस्तान का असली दुश्मन नहीं है, भाजपा वोटों के खातिर पाकिस्तान को दुश्मन मानती है।अखिलेश जी क्या भारत का दुश्मन आपका दुश्मन नहीं है? पाकिस्तान के प्रति इतना प्रेम क्यों?