गणेश जयंती इस साल 04 फरवरी दिन शुक्रवार को है. पंचांग के अनुसार, माघ महीने के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को गणेश जी की जन्म हुआ था, इसलिए इस तिथि को गणेश जयंती के नाम से जानते हैं. इस दिन विनायक चतुर्थी है. विनायक चतुर्थी का व्रत रखने और गणेश जी की विधि विधान से पूजा करने से गणपति बप्पा (Ganpati Bappa) खुश होते हैं. भक्तों के दुखों को दूर करते हैं, उनके जीवन में आने वाले संकटों और समस्याओं का निदान करते हैं. उनकी ही कृपा से सुख, समृद्धि एवं सफलता प्राप्त होती है. गणेश जी शुभता और सौभाग्य को प्रदान करने वाले देव हैं. आइए जानते हैं गणेश जयंती पर उन आसान उपायों के बारे में, जिनको करके गणेश जी का आशीर्वाद प्राप्त किया जा सकता है.

गणेश जयंती 2022 उपाय
1. गणेश जयंती के दिन गणपति बप्पा का जन्मदिन होता है. इस दिन आपको उनकी प्रिय वस्तुएं पूजा के समय उन्हें भेंट करनी चाहिए. इससे वे अतिप्रसन्न होंगे. गणेश जी को मोदक बेहद प्रिय है, इसलिए आप गणपति को मोदक का भोग लगाएं.2. गणेश जी के पेट में जब जलन हो रही थी, तब माता पार्वती ने गणेश जी को दूर्वा दिया था. जिसे ग्रहण करके उनकी समस्या का समाधान हो पाया. यदि आप भी गणेश जयंती पर गणेश भगवान को 21 दूर्वा की गांठें अर्पित करें. आपके संकटों और समस्याओं का समाधान हो सकता है.

 

3. गणेश जयंती के अवसर पर आपको प्रात:काल स्नान के बाद शुद्ध मन से गणेश चालीसा का पाठ करना चाहिए और गणेश जी की आरती करें. ये दो कार्य भी गणपति बप्पा को प्रसन्न कर देंगे. इन दोनों में ही बप्पा का गुणगान है. वे आपके जीवन में सुख, समृद्धि और सौभाग्य प्रदान करेंगे.

4. यदि आप किसी संकट में हैं या कोई ऐसी समस्या है, जिससे आपको क्षति हो सकती है, तो इससे बचने के लिए गणेश जयंती पर पूजा के समय गणेश कवच का पाठ करना चाहिए।.

5. धार्मिक मान्यताओं के मुताबिक, देवताओं के वाहनों एवं उनके प्रतीकों के पूजन से भी देव प्रसन्न होते हैं. ऐसे में आप गणेश जयंती के दिन हाथी एवं चूहे को भोजन दें, उनकी सेवा करें. तो गणेश जी की कृपा से आपका जीवन खुशहाल भरा हो जाएगा.

6. गणेश जी मातृ एवं पितृ भक्त हैं. गणेश जयंती के अवसर पर माता पार्वती एवं भगवान शिव के साथ गणेश जी की तस्वीर या मूर्ति का पूजन करें. अपने माता-पिता की सेवा करें. आप से गणेश जी प्रसन्न होंगे और मनोकामनाओं को पूर्ण करेंगे.