धर्म

Magh Gupt Navratri 2024 में कब शुरू होगी? जानें घटस्थापना के लिए सही समय

माघ महीने के 9 दिन गुप्त नवरात्रि कहलाते हैं, जिसमें मां दुर्गा की 10 महाविद्या की पूजा की जाती है। 2024 माघ गुप्त नवरात्रि की तिथि और घटस्थापना मुहूर्त जानें

साल में चार बार नवरात्रि मनाई जाती हैं; माघ महीने में मनाई जाने वाली गुप्त नवरात्रि सबसे पहली है। नौ दिन तक गुप्त तरीके से दस महाविद्याओं की पूजा-अर्चना की जाती है, इसलिए इसे गुप्त नवरात्रि कहा जाता है।

तांत्रिक दृष्टि से गुप्त नवरात्रि बहुत महत्वपूर्ण है। गुप्त पूजा करके अघोरी तंत्र-मंत्र सिद्ध करते हैं। गृहस्थ लोगों को इस दौरान देवी दुर्गा की सामान्य रूप से पूजा करनी चाहिए क्योंकि माना जाता है कि यह सभी संकटों को दूर करता है। आप माघ गुप्त नवरात्रि 2024 की तिथि, मुहूर्त और महत्व जानते हैं।

माघ गुप्त नवरात्रि 2024 डेट (Magh Gupt Navratri 2024 Date)

10 फरवरी 2024 को माघ गुप्त नवरात्रि शुरू होगी। 18 फरवरी 2024 को इसका समापन होगा। माघ माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से नवरात्रि शुरू होती है। तंत्र साधना के लिए गुप्त नवरात्रि एक अद्भुत अवसर है।

माघ गुप्त नवरात्रि 2024 मुहूर्त (Magh Gupt Navratri 2024 Ghatsthapana Muhurat)

माघ मास का शुक्ल पक्ष 10 फरवरी 2024 को सुबह 4 बजकर 28 मिनट पर शुरू होगा और 11 फरवरी 2024 को सुबह 12 बजकर 47 मिनट पर समाप्त होगा।

  • माघ गुप्त नवरात्रि में घटस्थापना मुहूर्त 10 फरवरी को सुबह 08.45 मिनट से सुबह 10.10 तक रहेगा.
  • इस दिन कलश स्थापना के लिए अभिजित मुहूर्त दोपहर 12.13 मिनट से दोपहर 12.58 मिनट तक शुभ मुहूर्त रहेगा.
  • मीन लग्म प्रारंभ – 10 फरवरी 2024, सुबह 08.45
  • मीन लग्न समाप्त – 10 फरवरी 2024, सुबह 10.10

गुप्त नवरात्रि महत्व (Magh Gupt Navratri Significance)

गुप्त नवरात्रि पर मां दुर्गा की दस महाविद्या दिखाई दीं। माघ गुप्त नवरात्रि के दौरान देवी शक्ति के 32 अलग-अलग नामों का जाप करना और धार्मिक ग्रंथों जैसे ‘दुर्गा सप्तशती’, ‘देवी महात्म्य’ और ‘श्रीमद्-देवी भागवत’ का पाठ करना जीवन में शांति लाने में मदद करता है। मान्यता है कि गुप्त नवरात्रि में की गई साधना जन्मकुंडली के सभी दोषों को दूर करके धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष प्रदान करती है।

Shattila Ekadashi 2024 कब है? डेट, मुहूर्त और व्रत पारण समय को नोट करें

गुप्त नवरात्रि की 10 महाविद्या

  1.  मां काली
  2. मां तारा
  3. मां त्रिपुर
  4. मां भुनेश्वरी
  5. मां छिन्नमस्तिके
  6. मां त्रिपुर भैरवी
  7. मां धूमावती
  8. मां बगलामुखी
  9. मां मातंगी
  10. मां कमला

फेसबुक और ट्विटर पर हमसे जुड़ें और अपडेट प्राप्त करें:

facebook-https://www.facebook.com/newz24india

twitter-https://twitter.com/newz24indiaoffc

Related Articles

Back to top button
Share This
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज