धर्म

Makar Sankranti 2024 कब हैं? 14 या 15 जनवरी 2024, जानें सही तारीख, मुहूर्त

Makar Sankranti 2024

Makar Sankranti 2024: हिंदू धर्म में मकर संक्रांति एक विशेष पर्व है, जिस दिन पोंगल, या उत्तरायण भी मनाया जाता है। यदि आप मकर संक्रांति की सही तारीख और मुहूर्त जानना चाहते हैं, तो यहाँ देखें।

Makar Sankranti 2024 से बड़े त्योहार शुरू होंगे। साल में बारह संक्रांति होती हैं, लेकिन मकर संक्रांति खास है। सूर्य इस दिन धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करता है।
Makar Sankranti 2024: खरमास मकर संक्रांति पर समाप्त होता है और उत्तर की ओर बढ़ता है, इसलिए इसे उत्तरायण भी कहा जाता है। इस वर्ष मकर संक्रांति की तिथि को लेकर लोगों में मतभेद है। आइए जानें मकर संक्रांति 2024 में कब मनाई जाएगी, कब स्नान करना चाहिए और मुहूर्त।

 

मकर संक्रांति 14 या 15 जनवरी 2024 कब ? (Makar Snakranti 2024 14 or 15 January)

15 जनवरी 2024, सोमवार को नए साल की मकर संक्रांति होगी। सूर्य आज दोपहर दो बजकर ४४ मिनट पर मकर राशि में प्रवेश करेगा। देश भर में मकर संक्रांति को कई अलग-अलग नामों से जाना जाता है, जैसे उत्तरायण, पोंगल, मकरविलक्कु और माघ बिहु।

Ayodhya Ram Mandir: विवाद से लेकर निर्माण और उद्घाटन तक, श्रीराम जन्मभूमि अयोध्या का इतिहास जानिए

मकर संक्रांति 2024 मुहूर्त (Makar Snakranti 2024 Muhurat)

  • मकर संक्रान्ति पुण्य काल – सुबह 06.41- शाम 06.22
  • अवधि – 11 घंटे 41 मिनट
  • मकर संक्रान्ति महा पुण्य काल – सुबह 06.41 – सुबह 08.38
  • अवधि – 1 घंटा 57 मिनट

मकर संक्रांति महत्व (Makar Snakranti Impostance)

सूर्य के उत्तरायण को देवताओं के लिए शुभ समय मानते हैं। इस दिन स्वर्ग के दरवाजे खुल जाएंगे। गीता में कहा गया है कि जो व्यक्ति उत्तरायण और शुक्ल पक्ष में अपनी देह त्यागता है, वह जन्म-मरण के बंधन से मुक्त होता है।यही कारण है कि भीष्म पिता ने बाण लगने के बाद उत्तरायण में मरने के लिए इंतजार किया था ताकि मोक्ष प्राप्त हो सके। शास्त्रों के अनुसार मकर संक्रांति के दिन गंगा स्नान करना सात जन्मों के पापों से छुटकारा दिलाता है।

खरमास शुरू, विवाह पर लगा विराम, जानें साल 2024 में कब है विवाह के मुहूर्त?

इसके अतिरिक्त, मकर संक्रांति पर तिल, जूते, अन्न, तिल, गुड़, वस्त्र और कंबल देने से शनि और सूर्य देव की कृपा मिलती है। इस दिन आप जो कुछ भी देते हैं, वह सीधे भगवान को देते हैं। यह दिन है जब दिन बड़े होते हैं और रातें छोटी होती हैं।

फेसबुक और ट्विटर पर हमसे जुड़ें और अपडेट प्राप्त करें:

facebook-https://www.facebook.com/newz24india

twitter-https://twitter.com/newz24indiaoffc

Related Articles

Back to top button
Share This
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज