राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली समेत समूचा उत्तर भारत इस समय कड़ाके की ठंड की चपेट में हैं. पहाड़ी राज्यों में हो रही बर्फबारी की वजह से अब मैदानी इलाकों में गलन बढ़ गई है. आलम यह है कि रात के समय पड़ रहे पाले ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है. हालांकि ​दोपहर के समय निकलने वाली धूप लोगों को कुछ राहत पहुंचा रही है, लेकिन सुबह के समय पड़ने वाले घने कोहरे की वजह से जिंदगी की रफ्तार थम गई है. कोहरे की वजह से कई शहरों में सड़कों पर जाम की स्थिति देखने को मिली है. इस बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने मंगलवार को कहा कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश सहित उत्तर-पश्चिम भारत में 2-4 फरवरी के दौरान हल्की से मध्यम बारिश होगी.

 UP Election: कांग्रेस का चुनावी दांव, अखिलेश और शिवपाल ​के सामने नहीं उतारा अपना प्रत्याशी

उत्तर प्रदेश में तेज बारिश हो सकती है

मौसम विभाग के अनुसार 2 फरवरी को पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में हल्की बारिश होने की संभावना है, जबकि 3 और 4 फरवरी को पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली के साथ उत्तर प्रदेश में तेज बारिश हो सकती है. आईएमडी के अनुसार बारिश की तीव्रता 3 फरवरी को अधिक रहेगी. मौसम विभाग का तो यहां तक कहना है कि 2-3 फरवरी को हिमाचल प्रदेश मऔर 3-4 फरवरी को उत्तराखंड में ओलावृष्टि भी हो सकती है. मौसम विभाग ने इसके पीछे सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ और इससे प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण को जिम्मेदार बताया है.

 एक्जिट पोल पर पंजाब चुनाव आयोग सख्त, कहा- एक्जिट पोल, प्रिंट अथवा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के अलावा अन्य भी किसी तरीके से प्रचारित या प्रसारित नहीं किए जा सकते..

उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में दिन काफी सर्द रहेंगे

मौसम विभाग के अनुसार आने वाले 2 दिनों में उत्तर-पश्चिम और मध्य भारत के ज्यादातर हिस्सों में न्यूनतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि देखने को मिल सकती है, जबकि उसके बाद 3-5 डिग्री सेल्सियस की गिरावट की संभावना है. मौसम विभाग से जुड़े वैज्ञानिकों की मानें तो उत्तरी उत्तर प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में दिन काफी सर्द रहेंगे, जबकि अगले 48 घंटों में पंजाब, हरियाणा में शीत लहर जैसी स्थिति रहेगी और उसके बाद ठंड में कमी आने की संभावना है.