धर्म

हनुमान जयंती पर हनुमान जी को इन 6 चीजों का भोग लगाएं 

हिंदू धर्म के अधिकांश लोगों ने बजरंगबली की पूजा की है। मान्यता है कि हनुमान जयंती पर हनुमान जी को उनके प्रिय भोग लगाने से वे जल्दी प्रसन्न होते हैं, हनुमान जी का भोजन जानें

चैत्र मास की पूर्णिमा को हनुमान जयंती, यानी बजरंग बली का जन्मोत्सव मनाया जाता है। हनुमान का जन्मदिन 23 अप्रैल 2024 है।

राम को मानने वाले हनुमान जी चिरंजीवी हैं। माना जाता है कि हनुमान जी की भक्ति करने से भय, बीमारी, दर्द और हर तरह की बुरी एनर्जी दूर होती है।

यही कारण है कि हनुमान जी भावना से प्यार करते हैं। हनुमान जन्मोत्सव (Hanuman janmotasav Bhog) पर बजरंगबली को कुछ खास चीजों का भोग लगाने से उसकी बड़ी से बड़ी समस्या जल्द हल हो जाती है. जो सच्चे मन से इनका गुणगान करता है, उसकी बड़ी से बड़ी समस्या जल्द हल हो जाती है।

हनुमान जयंती के भोग (Hanuman Jayanti Bhog)

मीठी बूंदी: हनुमान जी को मीठी बूंदी या उससे बना हुआ लड्डू सबसे प्रिय है। हनुमान जयंती के दिन बजरंगबली को बूंदी का भोग लगाएं, फिर इसे परिवार और गरीबों में बाँटें। यदि संभव हो तो बंदर को बूंदी भी दें। माना जाता है कि इससे बुरा काम होता है।

पान का बीड़ा– हनुमान जन्मोत्सव पर पवनपुत्र हनुमान को पान का बीड़ा दें। कलियुग में सबसे प्रभावशाली देवता हनुमान जी थे। जो उनके प्रति सच्ची श्रद्धा रखता है, वह उसे हर दर्द से छुटकारा दिलाने की जिम्मेदारी उठाता है। ऐसे में आप हनुमान जयंती के दिन बजरंगी को मीठा पान का बीड़ा चढ़ाएं। अपना काम हनुमानजी को सौपने के लिए, ये उपाय बहुत प्रभावी हैं. दुश्मन से छुटकारा पाने के लिए भी ये उपाय प्रभावी हैं।

लाल फल– हनुमान जी को सेब और लीची जैसे लाल फल अच्छे लगते हैं। बजरंगबली मंगल ग्रह का स्वामी हैं। मान्यता है कि हनुमान जयंती पर बाबा को लाल सेब चढ़ाना मंगल दोष दूर करता है। मांगलिक कार्य में कोई समस्या नहीं आती।

इमरती या जलेबी – हनुमान जयंती पर बजरंगबली को प्रसन्न करने के लिए इमरती, जलेबी या मालपुए का भोग भी लगा सकते हैं. ये हनुमान जी को प्रिय है. इसके फलस्वरूप भक्तों के उन्नति के रास्ते खुल जाते हैं.

गुड़-चना – बजरंगबली को हनुमान जयंती पर गुड़ चने का भोग ले शुगाना सबसे शुभ माना गया है. मान्यता है इससे मंगल और सूर्य संबंधित दोष खत्म होते हैं. आरोग्य मिलता है.

बेसन के लड्‌डू – कहते हैं कि हनुमान जन्मोत्सव हनुमान जी को बेसन के लड्‌डू चढ़ाना चाहिए, इससे शनि परेशान नहीं करते. आर्थिक और मानिसक तौर पर लाभ मिलता है.

दिल्ली के मरघट वाले बाबा का मंदिर, इतिहास और विशेषता जानें

हनुमान जी को न चढ़ाएं ये भोग

कहते हैं कि बजरंगबली की पूजा में दूध से बनी चीजों को नहीं खाना चाहिए। वास्तव में दूध चंद्रमा का कारक है और हनुमान जी की शक्ति मंगल ग्रह का कारक है। ज्योतिष में मंगल और चंद्रमा एक दूसरे का विरोधी हैं। यही कारण है कि हनुमान जयंती पर दूध से बने खाने को नहीं खाते।

फेसबुक और ट्विटर पर हमसे जुड़ें और अपडेट प्राप्त करें:

Related Articles

Back to top button
Share This
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज
9 Tourist Attractions You Shouldn’t Miss In Haridwar चेहरे पर चाहिए चांद जैसा नूर तो इस तरह लगायें आलू का फेस मास्क हर दिन खायेंगे सूरजमुखी के बीज तो मिलेंगे इतने फायदे हर दिन लिपस्टिक लगाने से शरीर में होते हैं ये बड़े नुकसान गर्मियों के मौसम में स्टाइलिश दिखने के साथ-साथ रहना कंफर्टेबल तो पहनें ऐसे ब्लाउज