एएनआई(जम्मू): केन्द्र सरकार ने कल यानी गणतंत्र दिवस पर वीरता पुरस्कार पाने वाले वीरों के नामों की घोषणा कर दी है। बताया गया है कि इस बार 939 पुलिस कर्मियों को उनके शौर्य के लिए गैलेंट्री अवॉर्ड्स से सम्मानित किया जाएगा। इसमें 189 वीरों को पुलिस मेडल से सम्मानित किया जाएगा।सरकार ने आज मंगलवार को 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस-2022 के अवसर पर कुल 939 पुलिस कर्मियों को पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है।

वहीं, विशिष्ट सेवा के लिए 88 वीरों को राष्ट्रपति का पुलिस मेडल और 662 को सराहनीय सेवा के लिए पुलिस मेडल दिया जाएगा। पुलिस मेडल से सम्मानित होने वाले वीरों में छत्तीसगढ़ में उनकी वीरता के लिए 10 वीरों को सम्मानित किया जाएगा, वहीं दिल्ली के लिए 3 मेडल, झारखंड के लिए 2, मध्य प्रदेश के लिए भी 3, महाराष्ट्र के लिए 7, मणिपुर के लिए 1, उत्तर प्रदेश के लिए 1 और ओडिशा में अपने अदम्य साहस का प्रदर्शन करने वाले 9 वीरों को पुलिस मेडल से सम्मानित किया जाएगा। इसमें सीआरपीएफ के 30 जवानों को भी पुलिस मेडल से सम्मानित किया जाएगा। वहीं, एसएसबी के भी तीन जवानों को पुलिस मेडल दिए जाएंगे।

जम्मू कश्मीर पुलिस के सर्वाधिक 115 अधिकारियों और जवानों ने पुलिस वीरता पदक प्राप्त किए हैं।इनके अलावा दो राष्ट्रपति उत्कृष्ट पुलिस सेवा पदक और 15 उत्कृष्ट पुलिस सेवा पदक भी प्राप्त किए हैं।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के इस अद्भुत शौर्य पर वहां के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने भी ट्वीटर पर जम्मू-कश्मीर पुलिस को बधाई देते हुए कहा कि पूरे देश को आप पर गर्व है। जम्मू-कश्मीर पुलिस के सभी वीरता पुरस्कार विजेताओं को बहुत-बहुत बधाई, जिन्होंने एक बार फिर सर्वोच्च 115 पुरस्कार जीते। पूरे देश को आप पर गर्व है।आने वाली पीढ़ियां आपके साहस को हमेशा याद रखेंगी।

यह सम्मान वाकई जम्मू-कश्मीर पुलिस के लिए स्पेशल है। जहां जम्मू-कश्मीर में पूरे साल सीजफायर, पुंछ, उरी जैसी वारदात होती हैं और जम्मू-कश्मीर पुलिस इसका डटकर सामना करती है ऐसे में जम्मू-कश्मीर पुलिस के लिए इस सम्मान की अहमियत बढ़ जाती है।