उत्तर प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Elections) के बीच ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी की गाड़ी पर हमले की खबर मिली है. ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने खुद ट्वीट कर इस हमले की जानकारी दी. AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने खुद ट्वीट कर इस घटना की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि मैं किठौर, मेरठ (उ.प्र.) में एक चुनावी कार्यक्रम के बाद दिल्ली जा रहा था। छिजारसी टोल प्लाजा के पास 2 लोगों ने मेरी गाड़ी पर 3-4 राउंड गोलियां चलाईं; वे कुल 3-4 लोग थे. मेरी गाड़ी के टायर पंक्चर हो गए, मैं दूसरी गाड़ी में वहां से निकला.

 UP Election: ‘AAP’ ने जारी की उम्मीदवारों नई लिस्‍ट, स्‍वामी प्रसाद के सामने इस नेता को दिया टिकट

AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि कुछ देर पहले वहां से एडिशनल एसपी से बात हुई है, उन्होंने कहा है कि एक व्यक्ति पकड़ा गया है, हथियार भी बरामद हुआ है। हमारी चुनाव आयोग से गुजारिश है कि इस मामले की स्वतंत्र जांच कराई जाए. ओवैसी ने आगे कहा कि हम मोदी सरकार और राज्य सरकार दोनों को कह रहे हैं कि ये इनकी ज़िम्मेदारी है कि इस मामले की स्वतंत्र जांच कराई जाए। ये कैसे हो सकता है कि एक सांसद पर 4 राउंड फायरिंग की जाती है.

 पंजाब में सीएम फेस पर बोलीं नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर, कहा – नवजोत सिंह सिद्धू हीरो हैं, हीरो रहेंगे;कोई फर्क नहीं पड़ता कि सीएम कौन होगा

वहीं, हापुड़ के एसपी दीपक भुकर ने कहा कि असदुद्दीन ओवैसी की गाड़ी पर हमले के बाद पुलिस ने मौके पर तुरंत पहुंचकर मामले में संदिग्ध एक व्यक्ति को हिरासत में लिया है। हथियार भी बरामद किया गया है। उसका एक साथी भाग गया है, उसकी तलाश की जा रही है. उत्तर प्रदेश एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने असदुद्दीन ओवैसी की गाड़ी पर हुए हमले पर कहा कि मामले की जांच के लिए वहां आईजी मेरठ रेंज स्वयं मौजूद हैं. 5 टीमें बनाई गई हैं, आवश्यकता पड़ने पर और टीमों का भी गठन किया जाएगा. मेरठ रेंज के IG प्रवीण कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि एक व्यक्ति जो सीसीटीवी के आधार पर चिंहित हुआ है तत्परता से हमने उस व्यक्ति को हिरासत में लिया है, उससे पूछताछ की जा रही हैण् सभी साक्ष्यों को चिंहित किया गया है। पूरा मामला अभी जांच का विषय है. असदुद्दीन ओवैसी के हमलावरों (एक गिरफ्तार, दूसरा हिरासत में लिया गया) से पूछताछ जारी है. पूछताछ में उन्होंने पुलिस को बताया कि उन्होंने असदुद्दीन ओवैसी के हिंदू विरोधी बयानों से आहत होकर ये हमला किया.