उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के चलते सियासी संग्राम जारी है. इस बीच आज यानी सोमवार को समाजवादी पार्टी के मुखिया व पूर्व मुख्यमंत्री ​अखिलेश यादव ने मैनपुरी जिले की करहल सीट से नामांकन कर दिया है. भारतीय जनता पार्टी ने अखिलेश के सामने केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल को चुनावी मैदान में उतारा है. दोनो नेताओं ने एक घंटे के अंतराल से पर्चा दाखिल किया. नामांकन के दौरान दोनों नेताओं ने अपनी-अपनी संपत्ति का ब्यौरा सार्वजनिक किया. घोषणापत्र में दिए ब्यौरे के अनुसार समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की कुल संपत्ति 17.22 करोड़ रुपए है.

 Corona Positive: भाजपा सांसद साध्वी प्रज्ञा के कोरोना पॉजिटिव होने पर कांग्रेस ने साधा निशाना, कहा- खुद नहीं पिया गौमूत्र

2019 में अखिलेश ने 16.90 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति की घोषणा की थी

यहां गौर करने वाली बात यह है कि साल 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान अखिलेश यादव ने नामांकन करते समय 16.90 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति की घोषणा की थी. जबकि आज विधानसभा चुनाव के लिए अपने नामांकन पत्र के साथ दाखिल हलफनामे में अखिलेश की ओर से बताया गया कि उनके पास 1.79 लाख रुपए का कैश है. जबकि उनकी पत्नी डिंपल यादव के पास 3.32 लाख रुपए नकद हैं. हलफनामे के अनुसार अखिलेश यादव के 5 बैंकों में अकाउंट्स हैं.

 मॉडल ने की पिता से आखिरी बार बात और फिर लगा दी मौत की छलांग…

राजधानी लखनऊ में भी अखिलेश के दो बैंक खाते

इन बैंक खातों में से दो इटावा में हैं. जिनमें एक में 3.19 लाख रुपए और दूसरे में 23,662 रुपए हैं. इसके साथ ही राजधानी लखनऊ में भी अखिलेश के दो बैंक खाते हैं. इनमें बैंक खातों में क्रमश: 21 लाख रुपए और 25,615 रुपए जमा हैंं. उनकी पत्नी डिंपल ने 3.68 करोड़ रुपये की चल संपत्ति और 9.30 करोड़ रुपए की अचल संपत्ति घोषित की है. अखिलेश यादव के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी ने केंद्रीय कानून एवं न्याय राज्य मंत्री एसपी सिंह बघेल को चुनावी मैदान में उतारा है. बघेल करहल से बीजेपी के उम्मीदवार होंगे. आपको बता दें कि आज यानी सोमवार को मैनपुरी में अखिलेश यादव के पर्चा दाखिल करने के बाद एसपी सिंह बघेल ने अपना नामांकन पत्र दाखिल किया.