UP  के बिजनौर जिले की नहटौर विधानसभा से बीजेपी सांसद ओम कुमार का अटपटा बयान:

UP  के बिजनौर जिले की नहटौर विधानसभा से बीजेपी सांसद ओम कुमार का एक विवादित बयान सुर्खियां बटोर रहा है. नगीना लोकसभा सीट से चुनाव हारने के बाद पार्टी नेताओं की बैठक में ओम कुमार ने कहा, ”वोट नहीं तो नौकरियां नहीं.” बीजेपी विधायक भी अधिकारियों को सलाह देते दिखे. उन्होंने कहा, “जो अधिकारी आपका सम्मान नहीं करता और आपकी बात नहीं सुनता, आप मेरे पास आ सकते हैं।” मैं आपके साथ जाउंगा। मैं उस अधिकारी को इस क्षेत्र में नहीं रहने दूंगा. विधायक हल्दोर मंडल में एक बैठक के मौके पर अपने भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने आगे कहा, ‘अब वो बात नहीं रहेगी. अब जो वोट देगा, काम उसी का करूंगा.’ वोट नहीं तो काम भी नहीं. किसी का नाम लेने की जरूरत नहीं.. एकमात्र मजहब ने वोट नहीं दिया। इसलिए नहीं दिया कि उन्हें गुंडागर्दी का अवसर मिल जाए, लेकिन मैं नहीं दूंगा। अंत तक लड़ेंगे।’

विधायक ओम कुमार ने कहा, “कावड़ महीना शुरू होने वाला है. एक बार जब कांवरिया UP के जिले की सीमा में प्रवेश करेंगे तो सभी बीजेपी कार्यकर्ता उनका सम्मान करेंगे. वो हमारी कावड़ यात्रा को रोककर दिखा दें.. आपके भाई ओम कुमार ने हमेशा सबका साथ, सबका विकास कार्य किया है.” कभी किसी के पक्ष में नहीं बोला लेकिन इस बार मैं चुप नहीं रहूंगा, मेरा मतलब है कि अगर आपमें से किसी ने संविधान के बारे में जनता को गुमराह करने का दोषी है,गलत बयान दिए हैं.’

बीजेपी विधायक कुमार ने कहा, ”यह बाबा साहब का बनाया संविधान है, आप इसे इतना कमजोर समझते हैं, आपकी आत्मा को दुख क्यों नहीं होता” आज भारत का संविधान दुनिया का सबसे मजबूत संविधान है और सबसे मजबूत संविधान रहेगा. मेरी आपसे एक ही प्रार्थना है कि हमें एक हो जाना चाहिए.’