बिजनेस डेस्‍क। ईपीएफओ अपने मेंबर्स के लिए उनके पीएफ अकाउंट तक अधिकतम पहुंच प्रदान करने के लिए अपनी अधिकांश सर्विस को सरल बना रहा है। यह ईपीएफ अकाउंट्स के रखरखाव को ईपीएफ अकाउंट होल्‍डर्स के लिए अधिक स्पष्ट और पारदर्शी बनाता है। अकाउंट होल्‍डर्स को अधिक स्वतंत्रता देने के लिए, ईपीएफओ मेंबर्स को अब दो महीने के इस्तीफे के बाद अपने ईपीएफ अकाउंट से बाहर निकलने की तारीख को ऑनलाइन अपडेट करने की अनुमति है।

ऐसे करें अपडेट
ईपीएफओ फैक्ट्स एंड क्वेश्चन (एफएंडक्यू) सेक्शन के अनुसार, ईपीएफओ की आधिकारिक वेबसाइट – epfindia.gov.in पर उपलब्ध है – इस्तीफे या बाहर निकलने के दो महीने बाद, एक ईपीएफ अकाउंट होल्‍डर आधार-बेस्‍ड ओटीपी का उपयोग करके अपने ईपीएफ अकाउंट से बाहर निकलने की तारीख को ऑनलाइन अपडेट कर सकता है। वे ईपीएफ खाताधारक जिन्होंने अपने यूएएन को आधार के साथ सक्रिय और लिंक किया है, वे इस ऑनलाइन ईपीएफ खाता अपडेट सेवा का लाभ उठा सकते हैं, बशर्ते उनका सक्रिय मोबाइल नंबर उनके आधार नंबर से जुड़ा हो।

यह भी पढ़ें:- इस प्राइवेट बैंक ने एफडी ब्‍याज दरों में किया बदलाव, जानिए कितनी कराएगा कमाई

दो महीने के बाद करें अपडेट
ईपीएफ अकाउंट से बाहर निकलने की तारीख को अपडेट करने के लिए पूर्व-आवश्यकताओं के बारे में अपडेट करते हुए, ईपीएफओ एफएंडक्यू कहता है, “ऑनलाइन ट्रांसफर के लिए आवेदन करने के लिए पूर्व नौकरी/रोजगार से बाहर निकलने की तारीख को अपडेट किया जाना चाहिए। नौकरी छोड़ने के केवल दो महीने बाद क्या प्रस्थान की तारीख को संशोधित किया जा सकता है। इसके अलावा, प्रस्थान की तारीख उस महीने का कोई भी दिन हो सकती है जिसमें पिछले नियोक्ता ने अंतिम भुगतान प्रदान किया था। EPFO F&Q में यह भी उल्लेख किया गया है कि इस्तीफा देने के बाद कोई व्यक्ति अपने EPF खाते में जमा राशि को ट्रांसफर कर सकता है। आपको अपनी PF राशि को ट्रांसफर करने के लिए केवल फॉर्म नंबर 13 भरना होगा।