कोरोना महामारी को लगभग दो साल से अधिक हो गए हैं। हर लहर के बाद यह लगता है कि अभी इस महामारी से बाहर निकल गए हैं, तभी दूसरी लहर आ जाती है। कोविड का खतरा कम होने का नाम नहीं ले रहा है, पर टिकाकरण होने से अब कोरोना महामारी का असर कम होता दिखता है।
आइए जाने कि कोरोना की तीसरी लहर कैसे अलग है दूसरी लहर से।

लक्षण
कोविड-19 के लक्षण जो देखने को मिले उसमे हाई टेंपरेचर, स्वाद का चले जाना और गले में कफ है। कोविड की तीसरी लहर में इन सब लक्षण के अलावा और भी लक्षण पाए जा रहे हैं जैसे सिर दर्द और नाक का बहना।

त्वचा में खुजलाहट
कोविड-19 के दौरान हमारी त्वचा पर खुजली होती है जो अभी ऑमिक्रॉन के प्रकार में भी देखने को मिल रही है, ये खुजलाहट बहुत ही ज्यादा होती है, जो हमारी त्वचा को काफी नुकसान पहुंचाती है।

स्वाद का चले जाना
कोविड मरीजों में अक्सर यह देखा गया है कि उनका स्वाद चला गया है। जिससे कि उनका खाना खाने का मन नहीं करता है और इसके कारण शरीर का वजन भी कम हो जाता है। इसके कारण कोविड के बाद रिकवरी में देरी होती है।