आज के समय में कैंसर को सबसे गंभीर बीमारियों में से एक माना जाता है। कैंसर कई तरह का होता है, जो शरीर के अलग अलग हिस्सों को प्रभावित कर सकता है। आपको बता दें कि यह कैंसर कोशिकाओं की असामान्य और अनियंत्रित वृद्धि की विशेषता है जिसके परिणामस्वरूप ट्यूमर का निर्माण होता है। शुरुआत में यह इतना खतरनाक नहीं होता। लेकिन अगर बहुत लंबे समय तक बिना कुछ किए इसे छोड़ दिया जाए तो यह न केवल खतरनाक हो सकता है। बल्कि मेटास्टेटिक भी हो सकता है।

वहीं कैंसर जेनेटिक हो यह केवल 5 से 10 प्रतिशत मामलों में ही देखा गया है। हालांकि जिनकी फैमिली हिस्ट्री में कैंसर की समस्या रही है, उन्हें अधिक सावधान रहने की जरूरत है। इसके लिए जरूरी है कि वह एक सही जीवन शैली का पालन करें और धूम्रपान एवं शराब आदि के सेवन से दूरी बनाकर रखें। इसके अलावा एक सही डाइट भी कैंसर से बचाए रखने में एक अहम भूमिका निभाती है। वहीं कुछ ऐसी खाद्य सामग्री भी हैं, जो कैंसर को जन्म दे सकती हैं। आइए जानते हैं ऐसी ही इन 5 खाद्य सामग्री के बारे में। जिनसे आपको दूरी बनाना जरूरी है।

बासी मुंह पानी पीने के फायदें जान हो जाएंगे हैरान

​सोयाबीन की फलियां
सोयाबीन की फलियां यूं तो एक स्वस्थ आहार की श्रेणी में गिना जाता है। लेकिन यह उन लोगों के लिए खतरनाक हो सकता है, जिनकी फैमिली हिस्ट्री कैंसर से जुड़ी हुई है। यह स्तन कैंसर को पैदा कर सकता है। हालांकि अभी इस पर कुछ दूसरे शोध करने की भी जरूरत है। लेकिन भविष्य में इस खाद्य सामग्री की वजह से कोई दिक्कत न हो। इसलिए इससे दूरी बनाकर रखना ही आपके लिए उचित है।

​प्रोसेस्ड मीट
अगर आप भी प्रोसेस्ड मीट जैसे पेपरोनी, सॉसेज, स्टेक और सलामी आदि का सेवन करते हैं तो यह कैंसर की समस्या को पैदा कर सकते हैं। दरअसल इस तरह के मीट को बनाने में कई प्रिजर्वेटिव्स और उच्च सोडियम का इस्तेमाल किया जाता है।
इस तरह के मीट की वजह से पेट के कैंसर से लेकर आंत के कैंसर तक को पैदा कर सकता है। एक स्वस्थ शरीर के लिए यह मीट किसी भी तरह फायदेमंद नहीं हो सकता है। इनमें अधिक फैट तो होता ही है। साथ ही इसमें नमक और दूसरे प्रिजर्वेटिव्स भी होते हैं जो उन लोगों के अंदर कैंसर को पैदा कर सकते हैं जिनकी फैमिली हिस्ट्री में कैंसर की समस्या रही हो।

​बीफ
ऐसे लोग जिनकी फैमिली हिस्ट्री में कैंसर की समस्या रही हो, उनके लिए बीफ का सेवन खतरनाक हो सकता है। अगर आप ऐसा चीज बर्गर का सेवन करते हैं जिनमें बीफ शामिल होती है तो यह भी आपके लिए सही नहीं है। इसके जरिए आपको कोलन कैंसर हो सकता है। इसी पर वर्ल्ड कैंसर रिसर्च फंड ने भी बीफ खाने वाले लोगों को सावधान किया है। इस संस्था के मुताबिक एक सप्ताह में केवल 500 ग्राम ही बीफ खाया जाना चाहिए।

​नमक
यह सुनकर ही आपको बड़ा झटका लगेगा कि अधिक नमक की वजह से न केवल हाई बीपी की समस्या हो सकती है। बल्कि यह कैंसर को भी पैदा कर सकता है। आपको बता दें वर्ल्ड कैंसर रिसर्च फंड इंटरनेशनल की एक रिपोर्ट के मुताबिक नमक और नमकीन भोजन के जरिए पेट के कैंसर की समस्या पैदा हो सकती है। ऐसे में कोशिश करें की अधिक नमक का सेवन बिल्कुल न करें।

​फ्राइड फिश
फिश को ओमेगा 3 फैटी एसिड का एक बहुत बेहतरीन स्रोत माना जाता है और इसे एंटी कैंसर गुण के लिए भी जाना जाता है। लेकिन जब फिश को डीप फ्राई किया जाता है तो इसके यह गुण दोष में बदल जाते हैं, और कैंसर की समस्या को पैदा कर सकते हैं। आपको बता दें कि फिश को डीप फ्राई करते हैं तो ओमेगा 3 का स्तर गिर जाता है और ट्रांस फैट बढ़ जाता है जो पैंक्रियाटिक, ओवेरियन, लीवर, ब्रेस्ट कोलोरेक्टल और इसोफेगल कैंसर को पैदा कर सकता है।